कोहली के घर पर किंगफिशर के कर्मचारियों का प्रदर्शन

WD
विराट कोहली चूंकि माल्या की टीम के कप्तान हैं, इसीलिए किंगफिशर एयरलाइन के कर्मचारियों ने अपने हक की लड़ाई लड़ने का यह अनोखा तरीका निकाला। एयरलाइन के कर्मचारी इसलिए नाराज थे कि एक तरफ माल्या उनकी कई महीनों से सैलेरी नहीं दे रहे हैं और दूसरी तरफ आईपीएल में करोड़ों रुपए दांव पर लगा रहे हैं।

प्रदर्शन में शामिल किंगफिशर एयरलाइन के विशाल तिवारी ने कहा कि हमें पिछले 10 महीने से कोई पैसा नहीं मिला है जबकि माल्या फोर्स इंडिया (फार्मूला वन कार रेस) के अलावा क्रिकेट में पैसा खर्च कर रहे हैं। इसी एयरलाइन में सोनिया पिछले 6 साल से इंजीनियर हैं। उन्होंने कहा कि महीनों से वेतन न मिल पाने के कारण न तो हम गाड़ी की ईएमआई भर पा रहे हैं और न ही मकान के लोन की किश्त।

जतिंदर सिंह ने कहा कि मेरी सारी सेविंग्स खत्म हो चुकी है और हालात ऐसे बन गए हैं कि हमें कहीं जॉब भी नहीं मिल पा रहा है। पिछले सात साल से किंगफिशर में कार्यरत विजय बहादुर सिंह ने कहा कि वेतन नहीं मिल पाने के कारण घर में बिजली नहीं है, बच्चों की पढ़ाई बर्बाद हो रही है। उन्होंने कहा कि यदि एयरलाइन हमें पैसा दे दे तो हम रेहड़ी लगाकर परिवार का गुजर-बसर कर लेंगे।

एसपी सिंह ने भी वेतन न मिल पाने का दुखड़ा रोते हुए कहा कि मेरे घर में भी पिछले 4 महीने से बिजली नहीं है क्योंकि मैं बिल नहीं भर पाया। मेरे बच्चे का जन्मदिन था और मेरे पास केक खरीदने के भी पैसे नहीं थे। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि मैं किन हालातों से गुजर रहा हूं। पिछले अक्टूबर माह से एयरलाइन बंद है और कर्मचारी वेतन के लिए तरस रहे हैं जबकि माल्या फोर्स इंडिया और आईपीएल में मस्त हैं।

WD| पुनः संशोधित सोमवार, 1 अप्रैल 2013 (21:29 IST)
नई दिल्ली। भारतीय टीम के स्टार बल्लेबाज और में विजय माल्या की मालिकाना हक वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली के घर के बाहर सोमवार को किंगफिशर एयरलाइन के सैकड़ों कर्मचारियों ने किया। ये कर्मचारी पिछले 10 महीने से न मिल पाने से नाराज हैं और उनका कहना है कि माल्या आईपीएल में पानी की तरह पैसा फूंक रहे हैं।
जब किंगफिशर एयरलाइन के कर्मचारी विराट कोहली के घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे, तब उनकी मां बाहर निकलीं और उन्हें भी समझ नहीं आ रहा था कि वे क्या कहें, क्योंकि विराट तो इस वक्त आईपीएल की तैयारियों में व्यस्त हैं। (वेबदुनिया न्यूज)



और भी पढ़ें :