जसवंत की बैठक में नहीं आए भाजपाई

नई दिल्ली (भाषा)| भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 7 सितम्बर 2009 (15:48 IST)
हमें फॉलो करें
द्वारा सोमवार को बुलाई गई संसदीय लोक लेखा समिति की पहली बैठक में भाजपा और राजग सदस्य शामिल नहीं हुए। जसवंत इस समिति के अध्यक्ष हैं और भाजपा से निष्कासित किए जाने के बाद उन्होंने पार्टी के आग्रह के बावजूद अध्यक्ष पद छोड़ने से इनकार कर दिया था।


लोकसभा में भाजपा के सांसद यशवंत सिन्हा और गोपीनाथ मुंडे पहले से निर्धारित किन्हीं अन्य कार्यक्रमों में जाने की दलील देकर पीएसी की बैठक में शामिल नहीं हुए। सिन्हा झारखंड में अपने चुनाव क्षेत्र हजारीबाग के दौरे पर गए हैं। उन्होंने इसी वजह से बैठक में शामिल होने में असमर्थता जताई थी।

मुंडे के करीबी सूत्रों ने बताया कि वे राज्य में आगामी विधानसभा चुनावों के प्रचार में व्यस्त हैं। राज्यसभा से पीएसी में भाजपा के प्रतिनिधि शांता कुमार और नारायणसिंह केसरी भी बैठक में शामिल नहीं हुए। स्वतंत्र भारत पक्ष के शरद अनंतराव जोशी भी इसमें नदारद रहे।

भाजपा नेताओं ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि पार्टी ने औपचारिक रूप से अपने सदस्यों को आदेश दिया था कि जसवंत पर अध्यक्ष पद छोड़ने का दबाव बनाने के लिए वे पीएसी की बैठक में शामिल न हों। उन्होंने कहा कि जसवंत के मामले में जब तक कुछ प्रगति नहीं हो जाती, वे पीएसी की गतिविधियों से दूर रहेंगे।

भाजपा की उस समय काफी फजीहत हुई, जब जसवंत ने पीएसी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया था। नियम के तहत जसवंत को केवल लोकसभा अध्यक्ष ही हटा सकते हैं।



और भी पढ़ें :