अमिताभ की माँ तेजी बच्चन का निधन

मुंबई (भाषा)| WD|
ख्यासाहित्यकास्वर्गीहरिवंशराबच्चपत्नबॉलीवुड सुरपस्टार अमिताभ बच्चन की माँ तेजी बच्चन का लंबी बीमारी के बाद शुक्रवार को निधन हो गया। वह 93 वर्ष की थीं।


तेजी पिछले लगभग एक वर्ष से बांद्रा के लीलावती अस्पताल में भर्ती थीं। पिछले महीने उनकी स्थिति बिगड़ने के बाद उन्हें सघन चिकित्सा कक्ष में स्थानांतरित कर दिया गया था।

इससे पहले तेजी बच्चन की स्थिति बिगड़ने की खबर मिलने के बाद उनके पुत्र अमिताभ, अजिताभ, पौत्र अभिषेक और उनकी पत्नी ऐश्वर्या समेत पूरा बच्चन परिवार अस्पताल पहुँचा। समाजवादी पार्टी के नेता अमरसिंह, उद्‍योगपति अनिल अंबानी, सुब्रत राय सहारा आदि पारिवारिक मित्र भी अस्पताल पहुँचे। बाद में श्रीमती बच्चन के पार्थिव शरीर को अमिताभ के घर 'प्रतीक्षा' लाया गया।
तेजी हरिवंशराय बच्चन की दूसरी पत्नी थीं और अभिनय के साथ-साथ गायन में भी रुचि रखती थीं। रुचि रखती थीं। प्रख्यात कवि हरिवंशराय का 96 वर्ष की आयु में वर्ष 2003 में निधन हो गया था।

पंजाबी परिवार में जन्मी तेजी सूरी का हरिवंशराय से विवाह 1941 में हुआ था। हरिवंशराय ने अपनी पहली पत्नी के निधन के बाद तेजी से विवाह किया था। 1950 के दशक में दिल्ली प्रवास के समय बच्चन दंपति के नेहरू-गाँधी परिवार से अच्छे संबंध थे।
तेजी की बीमारी की वजह से पिछले कुछ वर्ष से होली और दीवाली जैसे त्योहार बच्चन के जुहू निवास पर बेहद सादगी से मनाए जाते थे और माँ की बीमारी के कारण अमिताभ ने अपने पुत्र अभिषेक के विवाह की सारी रस्में भी सादगी से निभाईं।

तेजी बच्चन को ख्यात कवि गोपालदास नीरज, कवि अशोक चक्रधर, लेखिका पद्मा सचदेव संगीतकार आदेश श्रीवास्तव ने अपनी श्रद्धाजंलि अर्पित की है।
'सूरी' से 'बच्चन' बनने का सफर
'साहित्य जगत में काफी सम्मान था'
संपूर्ण स्त्री थीं तेजी बच्चन-भारती




और भी पढ़ें :