आडवाणी को शिवराज में नजर आए अटल

ग्वालियर| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 1 जून 2013 (20:09 IST)
हमें फॉलो करें
FILE
ग्वालियर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने यहां के मुख्यमंत्री की पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी से तुलना करते हुए दोनों को नम्र और अहंकार से परे बताया जबकि उन्होंने विकास के लिए शिवराज की तुलना गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी से की


आडवाणी ने यहां नगर-ग्राम केन्द्रों के पालकों और संयोजकों के सम्मेलन के समापन के अवसर पर कहा कि वाजपेयी ने अपने प्रधानमंत्रित्वकाल में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण और उन्नयन, परमाणु परीक्षण, किसान क्रेडिट कार्ड से लेकर अनेक योजनाएं शुरू कीं लेकिन हमेशा वे नम्र और अहंकार से दूर रहे।

उन्होंने देश में आज तक हुए प्रधानमंत्रियों के कार्यकाल की तुलना करते हुए दावा किया कि इनमें वाजपेयी का कार्यकाल सबसे बेहतर और सफल रहा है। इसी प्रकार चौहान ने जनता के कल्याण के लिए लाड़ली लक्ष्मी और मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन सहित अनेक कल्याकारी योजनाएं लागू कीं।

उन्होंने कहा कि इसी प्रकार वे अहंकार से परे व्यक्ति के रूप में चौहान को देखते हैं और उनकी कल्पनाशीलता से मध्यप्रदेश विकास की नई बुलंदियां हासिल कर रहा है।


आडवाणी ने कहा कि देश के चार हिन्दीभाषी राज्यों को उनके पिछड़ेपन के कारण बीमारू राज्य कहा जाता था लेकिन भाजपा के सत्ता में आने के बाद पिछड़ेपन से मुक्ति दिलाकर मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड और बिहार में विकास की दर नए क्षितिज पर पहुंची है।
आडवाणी ने मध्यप्रदेश की कृषि विकास दर की भी प्रशंसा करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश ही ऐसा राज्य है, जिसने हिन्दी विश्वविद्यालय की स्थापना का सपना साकार किया है। उन्होंने कहा कि देश के राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी उसका उद्घाटन करने शीघ्र आ रहे हैं जो मध्यप्रदेश के लिए गर्व की बात है।

आडवाणी ने राज्यों में विकास की इबारत लिखने में भाजपा और राजग सरकारों का विशेष रूप से उल्लेख किया और कहा कि गुजरात में नरेन्द्र मोदी ने जिस तरह प्रगति का अध्याय लिखा है, मप्र में शिवराजसिंह चौहान और छत्तीसगढ़ में डॉ. रमनसिंह ने उल्लेखनीय कार्य किया है जिसके लिए उन्हें बधाई दी जानी चाहिए।
मध्यप्रदेश सरकार की एक रुपए किलो गेहूं, दो रुपए किलो चावल और एक रुपए किलो नमक देने की योजना का औपचारिक रूप से उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि इस योजना से आम आदमी और गरीबों को देश में व्याप्त महंगाई से राहत मिलेगी।

उन्होंने प्रदेश भाजपा द्वारा आयोजित पालक संयोजक महाधिवेशन की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह मिशन 2013 की सफलता में मील का पत्थर साबित होगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :