कोलगेट, मनमोहन दें इस्तीफा-भाजपा

FILE
भाजपा प्रवक्ता राजीव प्रताप रूड़ी ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने सरकार पर कड़ी टिप्पणी की है और अदालत को अंधेरे में रखने की बात कही है। शीर्ष अदालत की यह टिप्पणी सामान्य बात नहीं है।

उन्होंने कहा कि जब देश की शीर्ष अदालत सरकार के खिलाफ इस तरह की बात करती है तब प्रधानमंत्री के पास अपने पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं रह जाता है।

रूड़ी ने कहा कि भाजपा मांग करती है कि प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह पद अविलंब से इस्तीफा दें। यह लोकतंत्र, देश और जनता के हित में होगा।

भाजपा के बलवीर पुंज ने कहा कि संसद और लोगों के बाद अब सरकार अदालत का भी विश्वास खो चुकी है। अब प्रधानमंत्री के पास अपने पद से इस्तीफा देने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है।

उन्होंने आरोप लगाया कि सीबीआई रिपोर्ट साझा करने का काम विधि मंत्री अपने आप नहीं कर सकते। जब तक उन्हें प्रधानमंत्री का आशीर्वाद प्राप्त नहीं हो तब तक वे ऐसा नहीं कर सकते। पुंज ने कहा कि ऐसी स्थिति में प्रधानमंत्री और विधि मंत्री दोनों को अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।

गौरतलब है कि कोयला ब्लॉक आवंटन मामले में सीबीआई रिपोर्ट साझा करने पर तीखी टिप्पणी करते हुए उच्चतम न्यायालय ने कहा कि सरकार के साथ सूचना साझा किए जाने की पूरी प्रक्रिया को गड़बड़ा दिया है।

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित मंगलवार, 30 अप्रैल 2013 (13:19 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। कोयला ब्लॉक आवंटन मामले में सरकार के खिलाफ उच्चतम न्यायालय की टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा ने मंगलवार को कहा कि संसद और लोगों के बाद अब सरकार अदालत का विश्वास भी खो चुकी है और अब प्रधानमंत्री को अविलंब इस्तीफा देना चाहिए।
शीर्ष अदालत ने पूछा कि सरकार के साथ जांच रिपोर्ट को साझा करने के मुद्दे पर अदालत को अंधेरे में क्यों रखा गया? (भाषा)



और भी पढ़ें :