राहुल भारतीय राजनीति के प्रेरणा स्रोत-दीया

इन्दौर (वार्ता)| वार्ता|
हमें फॉलो करें
प्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री दीया मिर्जा कांग्रेस के महासचिव राहुल गाँधी को देश की राजनीति में एक प्रेरणास्रोत मानती हैं।


यहाँ निजी कार्यक्रम में शामिल होने आईं पूर्व मिस इंडिया एशिया पेसिफिक ने कहा कि अब भारतीय राजनीति में आ रहे बदलाव के चलते कई युवा इस ओर आकर्षित हो रहे हैं।

उन्होंने कांग्रेस महासचिव राहुल गाँधी की तारीफ करते हुए कहा कि वे एक सच्चे इनसान की भाँति अपनी बातें रखते हैं और खुले दिल से बोलते हैं।

दीया ने कहा कि उनसे प्रेरित होकर युवा राजनीति में आ रहे हैं, जो बहुत अच्छा संकेत है। हालाँकि उन्होंने राजनीति में आने से इनकार कर दिया।


धारावाहिकों पर भी चले सेंसर की कैंची- दीया ने कहा कि टेलीविजन कार्यक्रमों में दिखाई जा रही अश्लीलता को रोकने के लिए फिल्मों की तरह ही सेंसरशिप लागू की जाना चाहिए।
उन्होंने 'सच का सामना' संबंधी सवाल के जवाब में कहा कि यही धारावाहिक क्यों कई ऐसे अन्य धारावाहिक हैं, जिन पर सेंसरशिप लगना चाहिए।

उन्होंने ऐसे किसी कार्यक्रम में भाग नहीं लेने की बात करते हुए कहा कि जो भी इस कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं, उन्हें सब बता दिया जाता है कि उनसे क्या पूछा जाएगा। यह उनकी निजता का मामला है।
टेलीविजन पर 'स्वयंवर' संबंधी प्रश्न के उत्तर में बॉलीवुड बाला ने कहा कि आज जो भी युवक-युवती विवाह कर रहे हैं, वह स्वयंवर ही है, मगर वे अपने निजी और जीवन के महत्वपूर्ण पल को किसी चैनल या धारावाहिक में सार्वजनिक नहीं करेंगी।

शाइनी आहूजा मामले में दीया ने कहा कि एक बार कलंक लग जाए तो वह मुश्किल से हटता है। फिल्म उद्योग को उनके बारे में सोचना चाहिए।
इमरान हाशमी के मुंबई में मकान प्रकरण पर उन्होंने कहा कि इसे राजनीतिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए। आज भी देश में कई जगह हैं, जहाँ केवल एक समाज के ही लोग रहते हैं। कई गुजराती क्षेत्र है, वहाँ केवल गुजराती ही रहते हैं। मुस्लिम क्षेत्रों में हिन्दू नहीं रह पाते।

माँस-मदिरा खाने वालों को भी कई जगह मकान नहीं मिलते। यह मामला देश के कानून का है। किसी भी तरह इसे हिन्दू मुस्लिम से जोड़कर नहीं देखना चाहिए।



और भी पढ़ें :