कैसे होते हैं मिथुन राशि के जातक

भारती पंडित|
हमें फॉलो करें
ND
मिथुन राशि वायु तत्व की राशि है। सत्व गुणी है व इसका स्वामी बुध है। बुध के प्रधान होने से यह बुद्धिमान होते हैं।


पुरुष : मिथुन राशि के पुरुष द्विधा मनस्थिति रखते हैं। स्वभाव में सरलता होती है, मगर आत्मविश्वास का अभाव ही रहता है। सहनशीलता कम होती है। अपनी बात रखने में कमजोर सिद्ध होते ही चिढ़चिढ़े हो उठते हैं। स्मरण शक्ति अच्छी होती है। लिखने-पढ़ने में रुचि होती है। व्यावहारिकता का अभाव होने से रिश्ते बनाने व सहेजने में ये व्यक्ति मात खा जाते हैं। हवा महल बनाना इनकी रुचि होती है।
स्त्री : मिथुन राशि की स्त्रियाँ सपनों में जीती हैं। बहुत बोलना व हर विषय पर चर्चा विवाद करना इन्हें अच्छा लगता है। नवीनता व चंचलता पसंद होती है। घर की सजावट का भी शौक होता है। लिखने-पढ़ने में भी रुचि होती है। जीवनसाथी के प्रति अपेक्षाएँ बढ़ी-चढ़ी होती हैं।

बच्चे : मिथुन राशि के बच्चे चंचल व बातूनी होते हैं। ऊधमी भी हो सकते हैं। एकाग्रता का अभाव होता है। सतत बोलते रहना, प्रश्न करना व हर विषय की जानकारी हासिल करना इन्हें पसंद होता है। घूमने-फिरने व खोज के प्रति उत्सुकता रहती है।


मिथुन राशि को पीला-हरा रंग प्रधानता से पहनना चाहिए। शुभ अंक 5 है। वार बुधवार तथा आराध्य देवता विष्णु हैं।



और भी पढ़ें :