मेरी किताब खुली और बेबाक:गिब्स

जोहान्सबर्ग| भाषा|
क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका से अनुशासनात्मक कार्रवाई की धमकियों और साथी खिलाड़ियों द्वारा आलोचना से अविचलित सलामी बल्लेबाज हर्शल गिब्स ने कहा है कि टीम में मतभेद, शराबखोरी और लम्पटपन के आरोपों का खुलासा करती उनकी विवादित आत्मकथा ‘खुली और बेबाक’ है।


गिब्स ने कहा कि जब आप बेबाक और ईमानदार तरीके से कुछ कहते हैं तो इस तरह की आलोचना होती ही है। मैं ईमानदार रहा हूँ और मुझे इसका अंदेशा था। ‘टू द प्वाइंट’ किताब में गिब्स ने कप्तान ग्रीम स्मिथ, मार्क बाउचर, जाक कैलिस और एबी डिविलियर्स जैसे सीनियर खिलाड़ियों पर टीम में मतभेद पैदा करने का आरोप लगाया।

गिब्स ने कहा कि उन्हें किताब में किए गए दावों के बारे में स्मिथ का मैसेज मिला जिसमें उन्होंने कहा है कि मेरा उनको जवाब है कि इसका पता करने के लिए किसी राकेट साइंस की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि दिवंगत हैंसी क्रोन्ये के वह मुरीद रहेंगे जो 2000 के मैच फिक्सिंग प्रकरण के बाद नायक से खलनायक बन गए।

उन्होंने विदेश दौरों पर अपने और अन्य खिलाड़ियों के लम्पटपन की जानकारी भी किताब में दी। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि लोग ईमानदारी का सम्मान करेंगे। गिब्स ने यह भी कहा कि उन्हें नहीं लगता कि दक्षिण अफ्रीका की विश्व कप टीम में उनके लिए कोई जगह है। (भाषा)



और भी पढ़ें :