मानसून में देरी से कृषि उत्पादन घटेगा

मुंबई (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
देश के प्रमुख उद्योगपति ने कहा है कि में देरी से का पाँच प्रतिशत तक घट सकता है।


उन्होंने कहा कि खराब मानसून के साथ कृषि उत्पादन में कमी से जीडीपी की वृद्धि दर भी प्रभावित हो सकती है, जो पहले ही वैश्विक मंदी के कारण दबाव में है।

एक समारोह के मौके पर गोदरेज इंडस्ट्रीज के चेयरमैन ने कहा कि यदि मानसून में विलंब होता है तो कृषि उत्पादन में पाँच प्रतिशत और जीडीपी की वृद्धि दर में 0.25 फीसद की कमी आएगी।

उन्होंने कहा कि इसका असली प्रभाव सितंबर और अक्टूबर में दिखाई देगा। ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों पर इसका असर पड़ेगा। गोदरेज ने कहा कि आज भी देश के ज्यादातर किसान खरीफ की फसल के लिए मानसून की बारिश पर निर्भर करते हैं।



और भी पढ़ें :