न्यूज एंकर के रूप में बनाएं करियर

वेबदुनिया डेस्क

FILE
इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पैसा ग्लैमर और रोजगार की असीम संभावनाओं के कारण युवाओं की पहली पसंद बनता जा रहा है। या वह शख्स होता है जो खबर कैसी भी हो उसे अपने तरीके से प्रस्तुत कर रोचक बना देता है। सबसे ज्यादा ग्लैमरस और आकर्षित करने वाला क्षेत्र है न्यूज रीडिंग अर्थात समाचार वाचन।


आज न्यूज चैनलों की भरमार है। न्यूज रीडिंग का स्वरूप भी पूरी तरह बदल गया है। प्रतिदिन खुलने वाले न्यूज चैनलों की वजह से इस क्षेत्र में रोजगार की संभावनाएं भी बहुत अधिक बढ़ गई हैं। न्यूज रीडिंग के करियर में पैसा और प्रसिद्धि दोनों हैं।

न्यूज रीडिंग के लिए प्रशिक्षण जरूरी है क्योंकि प्रशिक्षण एवं अनुभव से ही एक बेहतर न्यूज एंकर बना जा सकता है। न्यूज रीडर बनने के लिए वाकचार्तुय, उच्चारण सही होना आवश्यक है। साथ भाषा ज्ञान भी आवश्यक है। सामान्य ज्ञान, समाचारों की समझ, आत्मविश्वास, हावभाव से अच्छे न्यूज रीडर बन सकते हैं। अच्छी पर्सनालिटी भी न्यूज रीडिंग के लिए बेहद जरूरी है।

न्यूज एंकरिंग का कोर्स आप निम्न संस्थानों से कर सकते हैं-

-एनआरएआई स्कूल ऑफ मास कम्युनिकेशन, नई दिल्ल
-नेशनल स्कूल ऑफ इवेंट्स, मुंबई।
-प्राण मीडिया इंस्टीट्यूट, नोएडा।
-सेंट पॉल्स इंस्टीट्यूट ऑफ कम्यूनिकेशन एजुकेशन, मुंबई।-जीसस एंड मेरी कॉलेज, नई दिल्ल



और भी पढ़ें :