हाइड्रोक्विनॉन वाले क्रीम से बचें

हमेशा वो क्रीम लगाने से बचें जिसमें हाइड्रोक्विनॉन रसायन का इस्तेमाल किया जाता है। यह रसायन कैंसर कारक होता है। ओक्रोनोसिस नामक त्वचा के रोग के लिए इसे ही जिम्मेदार माना जाता है। इस बीमारी में त्वचा विकृत होने लगती है। इस विकृति के कारण त्वचा गहरे रंग की तथा मोटी होने लगती है।


नब्बे के दशक में अमेरिकी ड्रग एंड फूड एडमिनिस्ट्रेशन ने त्वचा को ब्लीच करने वाले एक और रसायन एमोनिएटेड मरक्यूरी को असुरक्षित घोषित किया था।


पोलीपायलीन ग्लायकॉल, डियाझोलिडिनायल यूरिया, फेनोक्सीएथेनॉल आदि ऐसे ही कुछ रसायन हैं जिनसे बने हुए पदार्थों के इस्तेमाल से तीव्र खुजली चल सकती है। एलर्जी हो सकती है तथा दाद-खाज हो सकती है।



और भी पढ़ें :