अकबर-बीरबल के रोचक और मजेदार किस्से : मूर्खों की फेहरिस्त

FILE


बादशाह अकबर के दरबार में घोड़े के विक्रेताओं का अच्छा व्यापार होता था।

एक दिन घोड़ों का एक नया विक्रेता दरबार में आया। अन्य व्यापारी भी उसे नहीं जानते थे। उसने दो बेहद आकर्षक घोड़े बादशाह को बेचे और कहा कि वह ठीक ऐसे ही सौ घोड़े और लाकर दे सकता है, बशर्ते उसे आधी कीमत पेशगी दे दी जाए।
WD|

नए घोड़े विक्रेता से खुश होकर बादशाह ने क्या किया...




और भी पढ़ें :