0

COVID-19 Life Style - अब घर बैठे महिलाएं भी कमा सकती है खूब सारे पैसे, जानिए कैसे

मंगलवार,अगस्त 24, 2021
0
1
राखी का पावन पर्व नजदीक आ चुका है। इस वर्ष 2021 में रक्षाबंधन का पवित्र पर्व रविवार, 22 अगस्त को मनाया जाएगा। इस दिन भाइयों की कलाई पर खूबसूरत राखियां सजेंगी, लेकिन इससे पहले जानते हैं कि राखी की थाली कैसे सजाएं...
1
2
हिन्दू कैलेंडर के अनुसार श्रावण माह की पूर्णिमा को रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाता है। अंग्रेजी कैलेंडकर के अनुसार 22 अगस्त 2021, रविवार को रक्षा बंधन का पर्व मनाया जाएगा। इस दिन श्रावण मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि है। विशेष बात ये है कि इस ...
2
3
हरियाली तीज व्रत श्रावण के महीने में पड़ता हैं, जब चारों ओर प्रकृति की हरियाली छटा बिखरी रहती है। इस मौसम में बारिश की रिमझिम फुहारों से मौसम खुशनुमा हो जाता है और ऐसे ही समय में मनाया जाता है
3
4
हरियाली तीज श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की तीज को आती है जबकि भाद्रपद शुक्ल तीज को हरतालिका तीज का व्रत रखा जाता है। दोनों ही पर्व और उसके व्रत माता पार्वती से जुड़े हुए हैं। इस दौरान महिलाएं व्रत रखकर माता पार्वती की पूजा और आराधना करती है। कहते हैं ...
4
4
5
हरियाली तीज श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की तीज को आती है जबकि भाद्रपद शुक्ल तीज को हरतालिका तीज का व्रत रखा जाता है। हरियाली तीज के दिन महिलाएं 16 श्रृंगार करती हैं। इन 16 श्रृंगार में हरे रंग का खासा महत्व होता है। आओ जानते हैं हरे रंग का महत्व।
5
6
अगस्‍त के महीने में बहुत सारे त्‍योहार, देशभक्ति से जुड़े दिवस, दर्दनाक घटना तो कुछ दोस्‍तों से जुड़े कुछ खास दिन आते हैं। हर साल अगस्‍त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे सेलिब्रेट किया जाता है। यह दोस्‍ती का सबसे खास दिन होता है। इस दिन सभी अपने ...
6
7
बकरीद या ईद-उल-अजहा के त्योहार पर अधिकतर महिलाएं और लड़कियां मेहंदी लगाती हैं। कई महिलाओं को नई-नई तरह डिजाइन वाली मेहंदी लगाने का शौक होता है।
7
8
इमोजी सबसे तेजी से बढ़ती भाषाओँ में से एक हो गया है। इमोजी को शुरू में जापान में उपयोग किया जाता था और अब इसका इस्तेमाल पूरे विश्व में होने लगा है इमोजिपिडिया के संस्थापक जेरेमी बर्ज ने 2014 में विश्व इमोजी दिवस मनाने का निर्णय लिया, उसके बाद 17 ...
8
8
9
कोरोना वायरस महामारी के पहले लॉकडाउन के दौरान लोगों में बहुत खौफ था, इस बीमारी से काफी डरे हुए थे। पूरे देश में लगे लॉकडाउन में लोगों ने स्वेच्छा से कोविड नियमों का पालन किया लेकिन जब एक बार फिर से लॉकडाउन लगाया गया तो उसकी अनदेखी की जा रही है, कहते ...
9
10
कोरोना महामारी के दौर में अधिकतम कार्य घर से ही किया जा रहा है। कोरोना काल में वर्क फ्रॉम होम का नया कल्चर विकसित हुआ है। वर्चुअल मीटिंग में भी कई सारी बातें हैं जो बहुत मायने रखती है। तो आइए जानते हैं वर्चुअल मीटिंग में किन बातों का ध्यान रखें -
10
11
कोरोना काल की वजह से कही न कही आमजन पर आर्थिक स्थिति का भार बढ़ने लगा है। इस बीमारी से बचाव के लिए संपूर्ण देश में छोटा-छोटा लॉकडाउन लगाया जा रहा है
11
12
चैत्र नवरात्रि 2021 चल रही है। इन 9 दिनों में कई लोग मां की आराधना उपवास करते हुए करते हैं। गर्मी के दिनों में उपवास करते वक्त खान-पान का ध्यान रखना भी जरूरी है।
12
13
लॉकडाउन का अर्थ होता है तालाबंदी। जीवन में पहली बार ऐसे शब्द से आमना-सामना हुआ जहां आपको खुद अपने हाथों से खुद को कैद करना है।
13
14
गणगौर का पर्व महिलाएं पूरे साज-सज्जा के साथ इस मनाती है। इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं। मां गौरी की पूजा कर पति की लंबी
14
15
कोरोना वायरस का कहर अब भी जारी है। किसी एक देश में नहीं बल्कि पुरी दुनिया पर इसका साया मंडरा रहा है। कई देशों में एक बार फिर से लॉकडाउन की नौबत आ गई है।
15
16
आम तौर पर सर्दी होने या शा‍रीरिक पीड़ा होने पर घरेलू इलाज के रूप में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, कि हल्दी वाले दूध के एक नहीं अनेक फायदे हैं? नहीं जानते तो हम बता रहे हैं-
16
17
‘अपना सपना मनी-मनी’ यही सबका सपना होता है, लेकिन पैसे से ही पैसा बनता है यह बात लड़कियों के समझ से थोड़ा परे हैं।
17
18
मीना कुमारी हिन्दी सिनेमा की बेहतरीन एक्ट्रैस में शुमार थीं। आज भी उनका नाम बड़ी अदब से लिया जाता है। छोटी उम्र से ही उन्होंने परेशानियों को झेलना सीख
18
19
आज भी दुनिया की सबसे सुरक्षित जगह मां का आंचल ही है।अपने बच्चों की खुशियों के लिए वो अपना आंचल सदा ईश्वर के समक्ष फैलाए रहती है। मां के आंचल-सा कोई संसार नहीं। पल्लू थामना, पल्लू पकड़ना, दामन पकड़ना, दामन थामना, आंचल में छिपना, ये सारे मात्र शब्द नहीं ...
19