PAC जवानों के डिमोशन पर योगी नाराज, दिए प्रमोशन के आदेश

Last Updated: शनिवार, 26 सितम्बर 2020 (15:19 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री ने पीएसी के 900 जवानों को पदावनत (डिमोशन) किए जाने के मामले को गम्भीरता से लेते हुए उनके तत्काल दिए हैं। उन्होंने कहा है कि सरकार के संज्ञान में लाए बगैर ऐसी कार्यवाही से पुलिस बल के मनोबल पर प्रभाव पड़ता है।
ALSO READ:

दीपावली तक कुशीनगर को मिलेगी यह बड़ी सुविधा, सीएम योगी का ऐलान
उन्होंने पुलिस महानिदेशक को निर्देशित किया कि वे सभी जवानो की नियमानुसार पदोन्नति सुनिश्चित कराएं। साथ ही सरकार के संज्ञान में प्रकरण को लाए बगैर ऐसा निर्णय जिन अधिकारियों द्वारा लिया गया है, उनका उत्तरदायित्व निर्धारित कर शासन को आख्या भी उपलब्ध कराएं।
गौरतलब है कि पीएसी से पुलिस में आए जवानों को प्रमोशन मांगने पर उन्हें मूल काडर पीएसी में भेजने का मामला सामने आया था। ऐसे 896 पुलिसकर्मियों को डिमोट करते हुए वापस किया गया जबकि 22 आरक्षियों को कॉन्‍स्‍टेबल के ही पद पर वापस भेजा गया।


इस बारे में विभाग का तर्क था कि आर्म्स पुलिस से सिविल पुलिस में पीएसी के 890 हेड कॉन्स्टेबल और 6 एसआई का प्रमोशन नियमविरुद्ध किया गया था। इस संबंध में पीएसी के 1998 बैच के कॉन्स्टेबल जितेंद्र कुमार ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की थी। (भाषा)



और भी पढ़ें :