सड़क दुर्घटना में आदमी मर जाते हैं तो क्या लोग आदमी मांगते हैं? हादसे का शिकार महिला पर भड़के SHO

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित मंगलवार, 10 मई 2022 (13:31 IST)
हमें फॉलो करें
में सोशल मीडिया पर एक वीडियो बहुत तेजी के साथ वायरल हो रहा है, जिसमें एक एसएचओ पहले पत्रकार को धमकी भरे अंदाज में समझाते हुए नजर आ रहे हैं, वहीं उसके बाद हादसे का शिकार हुई महिला को भी धमकी भरे अंदाज में दबाव बनाते हुए दिखाई पड़ रहे हैं। वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर क्षेत्राधिकारी सिकंदरा को इस मामले की जांच सौंपी गई है।


यह वीडियो कानपुर देहात के थाना सिकंदरा क्षेत्र का बताया जा रहा है। वीडियो में साफ तौर पर दिखाई पड़ रहा है कि सिकंदरा थाना के एसएचओ पहले तो मौके पर मौजूद एक पत्रकार से कह रहे हैं कि पत्रकार थोड़ा-सा धैर्य रखो, पत्रकार देश में बहुत सारे हैं। आप भी उसी में से एक हो, पुलिस भी बहुत सारे हैं, बस उसके आगे कुछ कहेंगे नहीं।

आप थाने क्यों नहीं आईं : इसके बाद मौके पर मौजूद एसएचओ को महिला बताती है कि वह शिक्षक है। फिर एसएचओ महिला से हादसे का समय पूछते हुए नजर आ रहे हैं फिर कह रहे हैं कि 112 नंबर आई? आप थाने क्यों नहीं आईं यहां पर क्या कर रही हैं। 3 घंटे हो गए हैं क्यों खड़ी हो यहां पर, चलो थाने चलो। फिर महिला बोलती है कि साहब समझौता हो गया है। नाराज एसएचओ कहते हैं कि मैं कोई समझौता नहीं मानूंगा थाने चलिए और मुकदमा लिखवाइए, मेरे 3 घंटे बर्बाद हुए हैं। उसके बाद एसएचओ ट्रक को थाने ले जाने की बात कहते हैं और महिला के ऊपर गुस्से भरे अंदाज में कहते हैं नौटंकी कर रही हो नई स्कूटी चाहिए।
उसके बाद एसएचओ कहते हैं गाड़ी का बीमा है कि नहीं और वहीं साथ में एसएचओ के बगल में खड़ा पुलिसवाला कहता है कि सड़क हादसे में आदमी मर जाते हैं, तो क्या लोग अपना आदमी मांगते हैं। उसके बाद गुस्से भरे अंदाज में एसएचओ कहते हैं कि थाने चलो और मुकदमा लिखवाओ। इस वीडियो को देखने के बाद कानपुर देहात के लोग थाना प्रभारी के बर्ताव को देखकर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर वायरस हो रहे इस वीडियो की वेबदुनिया पुष्टि नहीं करता।

जांच के आदेश : वीडियो देखने के बाद कानपुर देहात पुलिस विभाग की तरफ से कानपुर देहात पुलिस के ट्विटर अकाउंट से जांच के आदेश देते हुए कहा गया है कि मामले का संज्ञान लेते हुए क्षेत्राधिकारी सिकंदरा को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने हेतु निर्देशित किया गया है।





और भी पढ़ें :