मनीष गुप्ता मामले में CM के हस्तक्षेप के बाद 3 पुलिसकर्मियों पर मामला, परिजनों से मिले योगी

Last Updated: गुरुवार, 30 सितम्बर 2021 (15:13 IST)
हमें फॉलो करें

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के जिले में के कारोबारी के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हस्तक्षेप के बाद 3 पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इस बीच, मुख्‍यमंत्री ने मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता एवं अन्य परिजनों से मुलाकात की।


जानकारी के मुताबिक मृतक की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता की शिकायत पर रामगढ़ ताल थाना प्रभारी समेत 3 पुलिसकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

इससे पहले रामगढ़ ताल थाने के एसएचओ नारायण सिंह के साथ अक्षय मिश्रा, विजय यादव, राहुल दुबे, कांस्टेबल कमलेश यादव और प्रशांत कुमार को निलंबित किया जा चुका है। इन पर होटल में छापेमारी के दौरान हादसे में घायल व्यापारी मनीष गुप्ता की संदिग्ध मौत के मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में कार्रवाई की गई।

उल्लेखनीय है कि कारोबारी मनीष ‍गुप्ता की संदिग्ध अवस्था में एक होटल में मौत हो गई थी। इस संबंध में उत्तरप्रदेश में एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशासन कुमार ने कहा कि मनीष की मौत गिरने से हुई है।

उन्होंने कहा कि तलाशी के दौरान उनके पास जरूरी कागजात नहीं थे, इसलिए वे भागने का प्रयास कर रहे थे। दूसरी ओर,
पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मनीष गुप्ता के सिर, चेहरे एवं शरीर के अन्य हिस्सों पर चोट के निशान पाए गए हैं।




और भी पढ़ें :