हाथों में मेहंदी लगाए इंतजार करती रही दुल्हन, न दूल्हा पहुंचा और न बारात

Dulhan
अवनीश कुमार| पुनः संशोधित बुधवार, 11 मई 2022 (12:51 IST)
हमें फॉलो करें
कानपुर देहात। कानपुर देहात के सिकंदरा में हाथों में मेहंदी लगाए और आंखों में कई सपने संजोए युवती घंटों तक दूल्हे और बारात का इंतजार करती रही, मगर न तो दूल्हा पहुंचा और न ही बराती। परिवार के लोगों पर भी एक-एक पल भारी पड़ रहा था। पक्ष के लोगों ने काफी मिन्नतें कीं, लेकिन दहेज के लोभी ने बारात लाने से साफ इनकार कर दिया। फिर दुल्हन के पिता ने थक हार कर पुलिस का सहारा लिया और पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी है।

क्या है मामला - मामला जनपद कानपुर देहात के तहसील सिकंदरा के थाना सिकंदरा के कस्बा राजधान का है जहां एक दुल्हन होने वाले अपने दूल्हा व उसके साथ आने वाली बारात का इंतजार करती रही ना ही उसका दूल्हा आया और ना ही उसके बारात आई।

आया तो सिर्फ दूल्हा के घर से एक फोन आया और दुल्हन के पिता से कहा गया कि 2 लाख दो तब बारात लेकर आएंगे। इसके बाद घबराकर दूल्हन के पिता ने मामले की जानकारी एसडीएम सिकंदरा महेंद्र कुमार को दी।
सूचना मिलते ही मौके पर तत्काल एसडीएम सिकंदरा पहुंचे और परिजनों से पूरे मामले की जानकारी ली। दुल्हन के पिता ने बताया कि उसने अपनी बेटी की शादी आगरा के फतेहाबाद में रहने वाले राम लखन से शादी तय करी थी।

बीते 7 तारीख को तिलक भी चढ़ाया गया था और दूल्हे के परिजनों के द्वारा जो कुछ भी मांग रखी गई थी उसे पूरा किया गया था। लेकिन बारात आने के पहले से कुछ देर पहले ही लड़के पक्ष की तरफ से फोन आया और 2 लाख रुपए अतिरिक्त की मांग करी गई जिसको लेकर जब मैंने असमर्थता जाहिर की तो उन्होंने लाने से साफ इंकार कर दिया।
क्या बोले अधिकारी : एसडीएम सिकंदरा महेंद्र कुमार ने बताया कि लड़की के पिता की तरफ से सूचना दी गई थी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच पूरे मामले की जानकारी की गई पर तत्काल पुलिस को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।



और भी पढ़ें :