अखिलेश ने ज्ञानवापी मामले को अयोध्या से जोड़ा, कहा-भाजपा कुछ भी कर सकती है

Last Updated: गुरुवार, 19 मई 2022 (14:46 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने सर्वे के मुद्दे को लेकर एक बार फिर भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने इसे अयोध्या से जोड़ते हुए कहा कि भाजपा कुछ भी कर सकती है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने अयोध्या में रात के अंधेरे में मूर्तियां रखवा दी थीं।
ALSO READ:

ज्ञानवापी मस्जिद की सर्वे रिपोर्ट में हिंदू धार्मिक चिह्नों का जिक्र, प्रशासन ने नहीं किया सहयोग
अखिलेश यादव ने कहा कि अयोध्या से बेहतर कोई नहीं जानता होगा, एक समय ऐसा था कि रात के अंधेरे में मूर्तियां रख दी गईं। भाजपा कुछ भी कर सकती है, कुछ भी करा सकती है। उन्होंने कहा कि भाजपा अंग्रेजों की तरह 'बांटों और राज करो' फॉर्मुले पर चल रही है।
सपा प्रमुख ने कहा कि हमारे हिंदू धर्म में यह है कि कहीं पर भी पत्थर रख दो, एक लाल झंडा रख दो, पीपल के पेड़ के नीचे तो मंदिर बन गया।

उन्होंने कहा कि जहां तक धार्मिक स्थानों का सवाल है, भाजपा को 1991 ऐक्ट की परवाह नहीं है। भाजपा जानती है कि बुनियादी सवालों पर चर्चा होगी तो उसका सफाया हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि ज्ञानवापी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट के साथ ही वाराणसी की सिविल कोर्ट में भी सुनवाई होना है। वाराणसी कोर्ट में 6 और 7 मई को हुए सर्वे की रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है जबकि दूसरी रिपोर्ट कुछ ही देर में अदालत को सौंप दी जाएगी।
इस बीच अधिवक्ता विष्णु जैन ने कहा कि हमने अभी तक हलफनामा दाखिल नहीं किया है। SC ने आज मामले को सुनवाई के लिए रखा है। इस बीच अतिरिक्त घटनाक्रम हुए हैं जिन्हें अदालत के रिकॉर्ड में लाया जाना है। इसलिए, हम अदालत से कुछ समय मांगेंगे।



और भी पढ़ें :