गाजीपुर में लकड़ी के बक्से में गंगा नदी में बहती मिली 21 दिन की मासूम बच्ची

Last Updated: बुधवार, 16 जून 2021 (09:38 IST)
हमें फॉलो करें
गाजीपुर। यूपी के जिले में 21 दिन की मासूम बच्ची गंगा नदी में बहते हुए एक लकड़ी के बक्से में मिली। जब एक नाविक ने ददरी घाट के किनारे गंगा में बहते बक्से से बच्ची के रोने की आवाज सुनकर उसे खोला तो वह अवाक रहा गया। यह इलाका गाजीपुर के सदर कोतवाली इलाके में आता है। बक्‍से में मासूम बच्ची चुनरी में लिपटी थी और साथ में देवी-देवताओं के फोटो और जन्मकुंडली भी थी। इसके बाद को इसकी सूचना दी गई।
ALSO READ:

यूपी के गाजियाबाद में बुजुर्ग की पिटाई के मामले में ट्विटर समेत 9 पर FIR

लावारिस बच्ची को पुलिस ने आशा ज्योति केंद्र पहुंचाया है और वह जांच में जुटी है। यह मामला सदर कोतवाली क्षेत्र के ददरी घाट का है तथा इसी क्षेत्र के ददरी घाट में एक मासूम बच्ची लावारिस हालत में गंगा नदी में बहते एक लकड़ी के बक्से में मिली।
जानकारी के अनुसार ददरी घाट पर गंगा किनारे एक लकड़ी के बॉक्स से जब एक नाविक ने किसी बच्चे की रोने की आवाज सुनी तो उसे लकड़ी के बॉक्स के अंदर से बच्ची मिली। तब तक घाट पर मौजूद कुछ लोग भी जुट गए। बॉक्स को खोलने पर वे दंग रह गए। इसमें एक मासूम बच्ची थी, जो रो रही थी। बॉक्स के अंदर देवी-देवताओं के फोटो भी लगे थे और एक जन्मकुंडली भी थी, जो शायद बच्ची की हो। जन्मकुंडली में बच्ची का नाम गंगा लिखा है।
इस मासूम बच्ची को नाविक अपने घर ले गया, क्योंकि उसके परिजन बच्ची को पालना चाहते थे। लेकिन स्थानीय लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। इस पर पुलिस टीम नाविक के घर पहुंची और बच्ची को आशा ज्योति केंद्र ले गई, जहां उसका पालन-पोषण किया जा रहा है। बच्ची पूरी तरह स्वस्थ और सुरक्षित है। फिलहाल हैरतअंगेज हालत में गंगा में बक्से में मिली मासूम बच्ची क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है।



और भी पढ़ें :