शनिवार, 24 जुलाई 2021

Tokyo Olympics: शुरू हुए महिला फुटबॉल के मुकाबले, वर्ल्ड चैंपियन अमेरिका को मिली हार

पुनः संशोधित बुधवार, 21 जुलाई 2021 (18:54 IST)

में खेलों का बिगुल बज गया है। सॉफ्टबॉल मैच के बाद आज महिला फुटबॉल के मुकाबलों का भी आगाज हो गया। जहां पहले ही दिन के खेल में एक बड़ा उलटफेर देखने को मिला। स्वीडन ने अमेरिका जैसी मजबूत टीम को 3-0 से हराकर सनसनी फैला दी।

स्वीडन ने किया उलटफेर



में लगातार दो बार की वर्ल्ड चैंपियन अमेरिका की शुरुआत किसी बुरे सपने से कम नहीं रही। पहले ही मैच में स्वीडन ने अमेरिका को 3-0 से हराकर जोरदार पटखनी दी। स्वीडन की ओर से ब्लैकस्टेनियुस ने दो और लिना हर्टिग ने एक गोल किया। जानकारी के लिए बता दें कि, साल 2017 के बाद अमेरिका को पहली बार 3-0 से मिली हार का सामना करना पड़ा। साथ ही पिछले 44 मैचों के बाद अमेरिका की यह पहली हार थी, जिसे वाकई में एक बड़े उलटफेर के रूप में देखा जा रहा है।

ब्राजील ने चीन को चटाई धूल



एक अन्य महिला फुटबॉल मुकाबले में ब्राजील ने चीन को मात दी। ब्राजील ने चिन को 5-0 के एक बड़े अंतर से हराया। मैच में ब्राजील की ओर से मार्टा ने दो गोल दागे और इस तरह वह लगातार पांच ओलंपिक में गोल करने वाली पहली खिलाड़ी भी बन गई है। बता दें कि, छह बार की फीफा 'प्लेयर ऑफ द इयर' मार्टा ने 111 इंटरनेशनल गोल किए हैं, जो ब्राजील के लिए पुरुष या महिला फुटबॉल में सबसे ज्यादा है।

मार्टा के अलावा ब्राजील के लिए देबिन्हा, आंद्रेसा एल्वेस और बीट्रिज ने एक-एक गोल किया। मार्टा ने पहला गोल 9वें मिनट में पहला गोल किया। इसके बाद मैच के 22में मिनट में देबिन्हा ने दूसरा गोल दागकर ब्राजील को 2-0 की बढ़त दिला दी। इसके बाद मार्टा ने अपना दूसरा गोल 74वें मिनट में दागा। इसके बाद एल्वेस ने पेनल्टी पर और बीट्रिज ने 89वें मिनट में गोल किया। पूरे मुकाबले में चीन एकदम बेअसर नजर आई।

ब्रिटेन ने चिली को दी मात



ब्रिटेन की महिला फुटबॉल टीम ने भी पहले दिन के खेल में शानदार प्रदर्शन किया और चिली को 2-0 से हराया। ब्रिटेन की इस जीत में दोनों गोल एलें व्हाइट ने दागे। उन्होंने पहला गोल जहां 18वें मिनट में किया तो दूसरा गोल मैच के 75में मिनट में दागा। बता दें कि, चिली पहली बार ओलंपिक में हिस्सा ले रही है और पहला ही मैच उनके लिए बहुत बुरा रहा। वहीं, ब्रिटेन की इस टीम में स्कॉटलैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड के खिलाड़ी शामिल है। इससे पहले ब्रिटेन ने 2012 के ओलंपिक में भाग लिया था।



और भी पढ़ें :