फिर निराश किया निशानेबाजों ने, फाइनल में जगह बनाने से चूके अंगद और मैराज

पुनः संशोधित सोमवार, 26 जुलाई 2021 (13:18 IST)
टोक्यो:भारतीय निशानेबाजों का खेलों में निराशाजनक प्रदर्शन स्कीट स्पर्धा में भी जारी रहा तथा सोमवार को यहां अंगद वीर सिंह बाजवा और क्रमश: 18वें और 25वें स्थान पर रहकर फाइनल्स में जगह नहीं बना पाये।
अंगद ने असाका शूटिंग रेंज पर संभावित 125 में से 120 जबकि मैराज ने 117 अंक बनाये। स्कीट में चोटी के छह स्थान पर रहने वाले ही फाइनल्स में जगह बनाते हैं।

भारत ने अभी तक निशानेबाजी में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। उसके 10 मीटर एयर पिस्टल और राइफल निशानेबाजों को भी प्रतिस्पर्धा के पहले दो दिन नाकामी हाथ लगी थी।
दीपक कुमार और दिव्यांश भी हुए थे बाहर
इससे पहले भारतीय निशानेबाजों का निराशाजनक प्रदर्शन पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में जारी रहा जिसमें रविवार को पदक के दावेदार माने जा रहे दीपक कुमार और दिव्यांश सिंह पंवार क्रमश: 26वें और 32वें स्थान पर रहकर क्वालीफिकेशन से ही बाहर हो गये।

दीपक कुमार ने 624.7 अंक बनाये जो कि क्वालीफिकेशन में शीर्ष पर रहे चीन के हारोन यांग (632.7) से काफी कम था। चीनी निशानेबाज ने क्वालीफिकशन में नया ओलंपिक रिकार्ड भी बनाया। क्वालीफिकेशन में चोटी के आठ निशानेबाज ही फाइनल्स में जगह बनाते हैं।
युवा प्रतिभा दिव्यांश को पदक का दावेदार माना जा रहा था लेकिन वह 622.8 अंक ही बना पाये। दोनों भारतीय निशानेबाजों पर ओलंपिक जैसी बड़ी प्रतियोगिता का दबाव साफ नजर आया और वे अपेक्षित प्रदर्शन करने में नाकाम रहे।

इलावेनिल और अपूर्वी क्वालीफिकेशन राउंडर से हुई थी बाहर

इलावेनिल वालारिवन और अपूर्वी चंदेला महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा के फाइनल्स में जगह नहीं बना सकीं।
पहली बार ओलंपिक में खेल रही दुनिया की नंबर एक निशानेबाज इलावेनिल 626.5 के स्कोर के साथ 16वें और चंदेला 621.9 अंक के साथ 50 निशानेबाजों में 36वें स्थान पर रहीं। हर निशानेबाज को दस दस शॉट की छह सीरिज खेलनी थी।(भाषा)



और भी पढ़ें :