क्वार्टर फाइनल में भारतीय तीरंदाज, दीपिका-प्रवीण ने जगाई पदक की उम्मीद

Last Updated: शनिवार, 24 जुलाई 2021 (08:18 IST)
मुख्य बिंदु
  • क्वार्टर फाइनल में भारतीय तीरंदाज
  • मिश्रित युगल वर्ग दीपिका कुमारी और की शानदार जीत
  • चीनी ताइपै की टीम को 5-3 से हराया
  • दीपिका-प्रवीण ने जगाई पदक की उम्मीद
  • ओलंपिक में पहली बार मिश्रित युगल तीरंदाजी स्पर्धा
टोक्यो। भारत ने तोक्यो ओलंपिक की तीरंदाजी टीम स्पर्धा में शनिवार को शानदार शुरूआत की जब दीपिका कुमारी और प्रवीण जाधव की जोड़ी ने चीनी ताइपै को हराकर मिश्रित युगल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया।
पहला सेट एक अंक से गंवाने के बाद भारतीय टीम 1-3 से पिछड़ रही थी और उसे हर हालत में तीसरा सेट जीतना था। पहली बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साथ खेल रहे जाधव और दीपिका ने कोई गलती नहीं की। उन्होंने लिन चिया एन और तांग चिन चुन के खिलाफ यह मुकाबला 5-3 से जीता।
अब उनका सामना दक्षिण कोरिया और बांग्लादेश के बीच होने वाले मुकाबले के विजेता से होगा। मिश्रित युगल तीरंदाजी स्पर्धा पहली बार ओलंपिक में खेली जा रही है।

जीत के बाद दीपिका ने कहा कि हमें हर हालत में तीरंदाजी में ओलंपिक पदक जीतना है और हम उसी के लिए प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें आत्मविश्वास की जरूरत है। अनुभव और मेहनत का तालमेल जरूरी है। यह सोचकर खेल रहे हैं कि यह हमारा आखिरी ओलंपिक है, यह आखिरी मौका है। हम पदक जीतने ही आये हैं।


भारत की पदक उम्मीद दीपिका कुमारी शुक्रवार को तीरंदाजी स्पर्धा के महिला व्यक्तिगत रिकर्व रैंकिंग दौर में नौवें स्थान पर रही थीं। इस दौर में अंतिम 32 एलिमिनेशन दौर के मुकाबले 27 जुलाई को खेले जाएंगे।



और भी पढ़ें :