अफगान-तालिबान के बहाने ओवैसी का मोदी सरकार पर बड़ा हमला

Asaduddin Owaisi
Last Updated: शुक्रवार, 20 अगस्त 2021 (14:18 IST)

अफगानिस्तान पर के कब्जा जमाने के साथ अब भारत में भी सियासी पारा चढ़ने लगा है। केंद्र सरकार के अफगानिस्तान की महिलाओं और बच्चों के प्रति चिंता जताने पर कटाक्ष करते हुए AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने को निशाने पर लिया है। इसके साथ ही औवेसी ने मोदी सरकार की अफगान नीति को लेकर भी सवाल खड़े किए है।

AIMIM

सांसद असदुद्दीन ओवैसी कहा कि भारत में 9 में से 1 बच्ची की मौत 5 साल की उम्र से पहले हो जाती है। यहां महिलाओं पर अत्याचार और अपराध होते हैं। लेकिन केंद्र सरकार चिंतित हैं कि अफगानिस्तान में महिलाओं के साथ क्या हो रहा है। उन्होंने पूछा कि क्या ये भारत में नहीं हो रहा है?

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे से सबसे ज्यादा फायदा पाकिस्तान को हुआ है। जानकार कह रहे हैं कि अलकायदा और दाएश अफगानिस्तान के कुछ इलाकों में पहुंच चुके हैं। औवेसी ने कहा कि ‘आपको याद होगा कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI तालिबान को नियंत्रित करती है वह इसे कठपुतली की तरह इस्तेमाल करती है”।

औवसी से पहले मशूहर शायर मुनव्वर राणा ने अफगानिस्तान पर काबिज हुए कुख्यात आतंकवादी संगठन तालिबान का समर्थन किया था। राणा ने अपनी बात के पक्ष में तर्क दिया कि तालिबान ने एक भी हिन्दुस्तानी को नहीं मारा है,तालिबान को लेकर जल्दबाजी की जा रही है। तालिबान जो कर रहा है असल में वह बदले की कार्रवाई है। हालांकि बाद में उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि कहा कि मैंने तालिबान की हिमायत नहीं की है, मैंने अफगानिस्तान की हिमायत की है।






और भी पढ़ें :