तेजादशमी का प्रसाद : आज तेजाजी महाराज को चढ़ाएं यह भोग, पढ़ें विधि

Churma Recipe
लोकदेवता तेजाजी महाराज को तेजा दशमी के दिन एक विशेष भोग लगाया जाता है। इसमें पूजन के बाद उन्हें चूरमा चढ़ाने की मान्यता है। पढ़ें पारंपरिक शाही मीठा चूरमा बनाने की सरल विधि-

सामग्री :
आटा 500 ग्राम, 400 ग्राम पिसी चीनी (बूरा), 100 ग्राम मावा, 100 ग्राम मिश्री, 1/2 चम्मच केसर, 2 चम्मच पिसी छोटी इलायची, पाव कप पिस्ता, घी आवश्यकतानुसार, 1 चम्मच गुलाब जल।

विधि :
पारंपरिक व्यंजन चूरमा बनाने के लिए सबसे पहले गेहूं के आटे में घी का अच्छा मोयन देकर कड़ा सान लें। फिर इसकी मुठियां बना लें। एक कड़ाही में घी गर्म करके बादामी तल लें। तत्पश्चात इन्हें हाथ से मसल कर बारीक कर लें, फिर मोटी चलनी से छान लें। अगर हाथ से नहीं मसल सकते तो इमाम दस्ते में कूटकर छान लें। शेष बचे मोटे टुकड़ों को फिर से कूटकर छान लें।
अब पिस्ता उबलते पानी में 2-3 मिनट रखकर निकाल लें। इन्हें छीलकर लंबे-लंबे महीन काट लें। मिश्री को दरदरा कर लें। केसर को गुलाब जल में घोटकर चीनी में मिला दें। मावे को मोटी चलनी से छानकर, मंदी आंच पर गुलाबी होने तक सेक लें। फिर इसमें गर्म करके ठंडा किया हुआ (100 ग्राम) घी मिला दें। अब छने हुए मुठियां (आटे का तैयार किया हुआ मुठियां का बुरा) में मावा, चीनी, पिसी इलायची व पिस्ता की कतरन मिला दें। अब तैयार हो गया आपका पारंपरिक शाही मीठा चूरमा, अब तेजाजी महाराज को भोग लगाएं।



और भी पढ़ें :