Share Markets : आरबीआई ने रेपो रेट बढ़ाने से शेयर बाजार में कोहराम, सेंसेक्स 1,400 अंक लुढ़का

Last Updated: बुधवार, 4 मई 2022 (22:18 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। रिजर्व बैंक (RBI) के को कंट्रोल करने के उद्देश्य से आज अप्रत्याशित कदम उठाते हुए रेपो दर में 40 आधार अंक की बढ़ोतरी करने से घबराए निवेशकों की चौतरफा बिकवाली से में कोहराम मच गया।

ने बढ़ती महंगाई पर चिंता जताते हुए इसको काबू में करने के उद्देश्य से रेपो दर में आज तत्काल प्रभाव से 40 आधार अंक की बढोतरी करने का निर्णय लिया है।
इससे कारोबार के अंतिम चरण में हुई चौतरफा बिकवाली से बीएसई का तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 1306.96 अंक लुढ़ककर करीब ढाई माह के निचले स्तर एवं 56 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के नीचे 55,669.03 अंक पर आ गया।

इससे पहले सेंसेक्स 14 मार्च को 56,486.02 अंक पर रहा था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 391.50 अंक का गोता लगाकर 16,677.60 अंक पर रहा।

साथ ही विश्व स्तर पर निवेशक वर्ष 2000 के बाद से अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर में सबसे बड़ी वृद्धि के लिए तैयार हैं। इससे अंतरराष्ट्रीय शेयर बाजार में भारी गिरावट दर्ज की गई। इसका असर भी घरेलू शेयर बाजार पर रहा।
ब्रिटेन का एफटीएसई 0.57, जर्मनी का डैक्स 0.23, जापान का निक्केई 0.11 और हांगकांग का हैंगसैंग 1.10 प्रतिशत टूट गया जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट में 2.41 प्रतिशत की तेजी रही।

इस दौरान बीएसई के सभी 19 समूहों में गिरावट रही। बेसिक मैटेरियल्स 2.53, सीडीजीएस 3.01, ऊर्जा 1.02, एफएमसीजी 1.67, वित्त 2.63, हेल्थकेयर 2.92, इंडस्ट्रियल्स 2.64, टेलीकॉम 2.73, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स 3.88 और रियल्टी समूह के शेयर 3.31 प्रतिशत गिर गया।

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 149 अंक की तेजी लेकर 57,124.91 अंक पर खुला और लिवाली के बल पर 57,184.21 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। बिकवाली के दबाव में यह कारोबार के अंतिम चरण में 55,501.60 अंक के निचले स्तर तक लुढ़क गया।

अंत में पिछले दिवस के 56,975.99 अंक की तुलना में 2.29 प्रतिशत उतरकर 55,669.03 अंक पर आ गया। बीएसई में कुल 3475 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 2645 में बिकवाली जबकि 734 में लिवाली हुई वहीं 96 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

एनएसई भी 28 अंक बढ़कर 17,096.60 अंक पर खुला और सत्र के दौरान 17,132.85 अंक के उच्चतम जबकि 16,623.95 अंक के न्यूनतम स्तर पर रहा। अंत में पिछले सत्र के 17,069.10 अंक के मुकाबले 2.29 फीसदी का गोता लगाकर 16,677.60 अंक पर रहा। इस दौरान एनएसई में 45 कंपनियों के शेयर लुढ़के जबकि शेष पांच में तेजी रही।
इस दौरान कोटक बैंक, एनटीपीसी और पावरग्रिड की 2.75 प्रतिशत तक की तेजी को छोड़कर सेंसेक्स की शेष 27 कंपनियों में गिरावट रही। बजाज फाइनेंस ने सबसे अधिक 4.29 प्रतिशत का नुकसान उठाया। इसके अलावा बजाज फिनसर्व 4.18, टाइटन 4.11, इंडसइंड बैंक 3.98, एचडीएफसी बैंक 3.34, मारुति 3.17, रिलायंस 3.14, एलटी 2.74, टाटा स्टील 2.60, एचडीएफसी 2.50, आईसीआईसीआई बैंक 2.31, एसबीआई 2.27, टीसीएस 1.68 और आईटीसी के शेयर 1.29 प्रतिशत टूटे।



और भी पढ़ें :