मनिका बत्रा ने कोच पर लगाया सनसनीखेज आरोप, कहा था जानबूझ कर मैच हारो

Last Updated: शुक्रवार, 3 सितम्बर 2021 (23:44 IST)
हमें फॉलो करें
हाल ही में विवादों में रही टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने कोच पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि उनके कोच ने उनको ओलंपिक में मैच फिक्स करने को कहा था।

मनिका बत्रा ने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय कोच सोम्यदीप रॉय ने उनको मार्च में हुए ओलंपिक क्वालिफायर्स में एक मैच जानबूझ कर हार जाने को कहा था। टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया के कारण बताओ नोटिस में मनिका बत्रा ने यह जवाब दिया कि राष्ट्रीय कोच की मदद ना लेकर उन्होंने कोई गलती नहीं की है।

मनिका ने इसके अलावा यह भी कहा कि अगर वह राष्ट्रीय कोच के साथ ओलंपिक में खेलती तो अपने खेल पर ध्यान नहीं लगा पाती क्योंकि उनके पास वह आदमी बैठा होता जिसने उन्हें हारने की सलाह दी है।मनिका ने TTFI सचिव अरूण बनर्जी को भेजे जवाब में कहा ,’ आखिरी मिनट पर उनके दखल से पैदा होने वाले व्यवधान से बचने के अलावा राष्ट्रीय कोच के बिना खेलने के मेरे फैसले के पीछे एक और अधिक गंभीर वजह थी ।’ उन्होंने कहा ,’ राष्ट्रीय कोच ने मार्च 2021 में दोहा में क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में मुझ पर दबाव बनाया कि उनकी प्रशिक्षु के खिलाफ मैच गंवा दूं ताकि वह ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर सके । संक्षेप में मुझसे मैच फिक्सिंग के लिये कहा ।’

सौम्यदीप रॉय के जवाब का इंतजार

कई प्रयासों के बावजूद रॉय से संपर्क नहीं हो सका है।

खिलाड़ी से कोच बने रॉय को मौजूदा राष्ट्रीय शिविर से बाहर रहने को कहा गया है। टीटीएफआई ने उन्हें उनका पक्ष रखने के लिये भी कहा है। बनर्जी ने कहा,’ आरोप रॉय के खिलाफ हैं। उन्हें जवाब देने दीजिये । फिर आगे के बारे में फैसला लेंगे।’ रॉय राष्ट्रमंडल खेलों की टीम स्पर्धा के स्वर्ण पदक विजेता हैं जिन्हें अर्जुन पुरस्कार भी मिल चुका है।

मनिका के पास हैं सबूत

मनिका ने कहा ,’ मेरे पास इस घटना का सबूत है जो मैं उचित समय आने पर पेश करूंगी । मुझे मैच गंवाने के लिये कहने राष्ट्रीय कोच मेरे होटल के कमरे में आये और करीब 20 मिनट मुझसे बात की । उन्होने अनैतिक तरीके से अपनी प्रशिक्षु को आगे बढ़ाने का प्रयास किया जो उस समय उनके साथ आई थी।’ मनिका और सुतीर्था मुखर्जी ने ओलंपिक के लिये क्वालीफाई किया था। सुतीर्था रॉय की अकादमी में अभ्यास करती हैं। मनिका ने कहा ,’मैंने उनसे कोई वादा नहीं किया और तुरंत TTFI को इसकी जानकारी दी। उनके दबाव और धमकी का हालांकि मेरे खेल पर असर पड़ा।’

गौरतलब है कि के दौरान राष्ट्रीय कोच सौम्यदीप रॉय से मदद लेने के मनिका बत्रा के इनकार को भारतीय टेबल टेनिस महासंघ ने अनुशासनहीनता करार देते हुए कहा था कि अगस्त के महीने कार्यकारी बोर्ड की बैठक के दौरान उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। मनिका बत्रा को टेबल टेनिस फेडरेशन कारण बताओ नोटिस भेजेगा और उन्हें 10 दिनों के अंदर जवाब देने को कहा था।

टीटीएफआई महासचिव अरूण कुमार बनर्जी ने तब कहा था ,‘‘ यह अनुशासनहीनता है।उसे अपने मैचों के दौरान राष्ट्रीय कोच को कोर्ट के पास बैठने की अनुमति देना चाहिए थी जैसा बाकी खिलाड़ियों ने किया। रॉय भारत के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से है और अब जाने माने कोच हैं ।’’
Manika Batra
Manika Batra

ऐसा रहा था मनिका का प्रदर्शन

भारतीय खिलाड़ी मनिका बत्रा टोक्यो ओलंपिक खेलों की टेबल टेनिस प्रतियोगिता के महिला एकल में तीसरे दौर में आस्ट्रिया की सोफिया पोलकानोवा से सीधे गेम में हारकर बाहर हो गयी थी। उन्होंने 0-4 (8-11, 2-11, 5-11, 7-11) से यह मैच गंवाया था।

इससे पहले मनिका ने पहले मैच में ग्रेट ब्रिटेन की टिन-टिन हो को एकतरफा अंदाज में 4-0 (11-7, 11-6, 12-10, 11-9) हराया था। इसके बाद दूसरे मैच में यूक्रेन की मारग्रेट पेसोत्सका को संघर्षपूर्ण मुकाबले में 4-3 से हराया था। मनिका को लय हासिल करने में थोड़ी परेशानी हुई लेकिन वह आखिर में 57 मिनट तक चले इस मैच में 20वीं रैकिंग की यूक्रेनी खिलाड़ी को 4-11, 4-11, 11-7, 12-10, 8-11, 11-5, 11-7 से हराने में सफल रही थी। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :