फिल्म 'दंगल' की जायरा राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार पाकर खुश

Last Updated: शनिवार, 8 अप्रैल 2017 (01:07 IST)
हमें फॉलो करें

नई दिल्ली। शुक्रवार को की फिल्म `दंगल` को भी राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में सम्मान प्राप्त हुआ। के लिए में के बचपन का किरदार निभाने वाली कश्मीर की रहने वाली को चुना गया है।

नई दिल्ली। भारतीय पहलवान महावीर सिंह फोगाट के जीवन संघर्ष और उनके द्वारा समाज की परवाह किए बिना अपनी बेटियों को अंतरराष्ट्रीय पहलवान बनने की कहानी बयां करती आमिर खान की फिल्म 'दंगल' को भी राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में सम्मान प्राप्त हुआ। बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के लिए फिल्म दंगल में गीता फोगाट के बचपन का किरदार निभाने वाली कश्मीर की रहने वाली जायरा वसीम को चुना गया है।

'दंगल' में आमिर खान समेत सभी महिला कलाकारों को कुश्ती के गुर सिखाने वाले
इंदौर के

कृपाशंकर विश्नोई

इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए चुने जाने पर जायरा ने खुशी जाहिर की है। जायरा ने कहा कि अपनी पहली फिल्म के लिए नेशनल अवॉर्ड पाकर वह काफी खुश हैं और सम्मानित महसूस कर रही हैं। जायरा ने कहा कि वह इसके लिए हमेशा जूरी और दंगल टीम की आभारी रहेंगी इस उपलब्धि पर जायरा ने अपने कुश्ती गुरु को भी धन्यवाद कहा। जायरा ने कहा कि उन्हें खुद पर गर्व नहीं है।

गौरतलब है कि जायरा वसीम कुछ दिनों पहले विवादों के कारण सुर्खियों में आई थीं। दरअसल, फिल्म 'दंगल' में अभिनय करने पर कट्टरपंथियों ने उन्हें कथित रूप से धमकी दी थी। इसके बाद जायरा ने सोशल मीडिया पर कहा था कि वह युवाओं के लिए प्रेरणा नहीं हैं। जायरा ने कहा है कि उन्हें खुद पर गर्व नहीं है।

फिल्म में गीता फोगाट के बचपन के किरदार के लिए जायरा ने काफी वाहवाही बटोरी है। इसके अलावा जायरा ने 10वीं की परीक्षा में 92 प्रतिशत अंक हासिल किए है। उनकी इस सफलता पर जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने हाल ही में उनसे मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद जायरा सोशल मीडिया में ट्रोल की जाने लगीं। जायरा की माफी को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि, जायरा ने अपने पोस्ट में किसी का नाम नहीं लिया है।




और भी पढ़ें :