हॉकी में हरमनप्रीत का कमाल, हैट्रिक लेकर पूरे किए करियर के 100 गोल

पुनः संशोधित सोमवार, 4 अप्रैल 2022 (18:30 IST)
हमें फॉलो करें
भुवनेश्वर:उप कप्तान एवं डिफेंडर की गोलों की हैट्रिक की बदौलत भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने यहां में रविवार को खेले गए 2021-22 मुकाबले में इंग्लैंड को 4-3 से हरा दिया। भारत इस जीत के साथ एफआईएच प्रो लीग अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गया है।

भारत की इंग्लैंड पर यह लगातार दूसरी जीत है। इससे पहले भारत ने शनिवार को इंग्लैंड को पेनल्टी शूटआउट में 3-2 से हराया था। भारत 10 मैचों में छह जीत, दो मैचों में सीधी हार तथा एक शूटआउट में जीत और एक शूटआउट में हार के साथ 21 अंकों के साथ पहले स्थान पर काबिज है, जबकि जर्मनी 17 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर है, जिसने 2021-22 पुरुष एफआईएच प्रो हॉकी लीग में अब तक आठ मैच खेले हैं, जिसमें से उसने पांच में सीधी जीत और एक में शूटआउट से जीत हासिल की है, जबकि दो मैच हारे हैं।

भारत और इंग्लैंड के बीच कांटे का मुकाबला रहा। इंग्लैंड ने शनिवार की तरह इस मैच में भी सातवें मिनट में गाेल करके शुरुआती बढ़त बना ली, लेकिन कप्तान मनप्रीत सिंह ने 15वें मिनट में मिले एक मिनट के अतिरिक्त समय में पेनल्टी कार्नर को गोल में तब्दील कर 1-1 की बराबरी के साथ पहला क्वार्टर समाप्त किया और इसके बाद भारत कभी पीछे नहीं रहा। हरमनप्रीत ने गोलों की हैट्रिक करते हुए भारत के लिए 100 गोलों का आंकड़ा पूरा, जबकि इंग्लैंड दो और गोल करने में सक्षम रहा और स्कोर की बराबरी नहीं कर सका और 4-3 से हार गया।
Koo App
Hockey: Ace drag flicker scored a hat-trick and also completed a century of international goals. India beat England 4-3 in 2nd match of double-leg tie in Bhubaneswar yesterday. - Prasar Bharati News Services (@pbns_india) 4 Apr 2022
हरमनप्रीत ने दूसरे क्वार्टर में 26वें मिनट में दो शानदार गोल दाग कर बढ़त को 3-1 कर दिया। दूसरे क्वार्टर के शानदार समापन के बाद भारतीय टीम ने तीसरे क्वार्टर में आक्रमण के साथ-साथ डिफेंस पर भी खासा ध्यान दिया, हालांकि इंग्लैंड 39वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर अर्जित करने और इसे गोल में बदलने में कामयाब रहा। भारत ने हालांकि इसका जवाब दिया और हरमनप्रीत के 43वें मिनट में पेनल्टी र्कानर के जरिए हुए गोल से स्कोर को 4-2 किया, लेकिन इंग्लैंड ने क्वार्टर की समाप्ति से ठीक पहले 44वें मिनट में एक और पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया और इसे गोल में तब्दील कर 4-3 के स्कोर के साथ तीसरा क्वार्टर खत्म किया।

चौथे और आखिरी क्वार्टर में खेल काफी तीव्र रहा। दोनों ओर से कड़ी चुनौती देखने को मिली, लेकिन दोनों ही टीमों के मजबूत डिफेंस के चलते यह क्वार्टर गोल रहित और 4-3 के स्कोर पर समाप्त हुआ। परिणामस्वरूप भारत ने जीत के साथ महत्वपूर्ण तीन अंक प्राप्त किए।

प्लेयर ऑफ द मैच रहे और गोलों की हैट्रिक करने वाले हरमनप्रीत ने अपने प्रदर्शन का श्रेय टीम को देते हुए कहा, “ भारत के लिए अपने 100वें गोल और हैट्रिक से खुश हूं। यह संभव इसलिए हुआ, क्योंकि हमारी टीम के पास उन कोनों में बेहतरीन विकल्प हैं, इसलिए डिफेंस उस स्थिति में एक खिलाड़ी पर ध्यान केंद्रित नहीं रह सकता। हम जिस दिशा में जा रहे हैं, उससे और टीम में प्रतिभा और विकल्प से खुश हूं। ”(वार्ता)



और भी पढ़ें :