25 जुलाई 2021 से प्रारंभ हो रहा है श्रावण मास, जानिए पूजा का मुहूर्त

 
उत्तर भारतीय राज्य पूर्णिमांत कैलेंडर का पालन करते हैं, जिसमें सावन का महीना अमंता कैलेंडर से पंद्रह दिन पहले शुरू होता है। श्रावण मास यानी सावन का महीना पंचांग के अनुसार 25 जुलाई, रविवार से शुरू हो रहा है और 22 अगस्त 2021 को समाप्त होगा। आओ जानते हैं 25 जुलाई को शिवपूजा का कौनसा मुहूर्त शुभ रहेगा।

1. 25 जुलाई 2021 रविवार को श्रावण माह कृष्‍ण पक्ष की प्रतिपदा रहेगी। प्रात: 05:58 पर सूर्योदय होगा 05:51 के बाद द्वितीया प्रारंभ हो जाएगी। शाम 7:08 पर सूर्योस्त हो जाएगा।
2. कर्क राशि में नक्षत्र श्रवण रहेगा, सूर्य भी कर्क में रहेगा और मकर राशि में चंद्र रहेगा प्रात: 10 बजकर 49 मिनट तक इसके बाद कुंभ में चला जाएगा। श्रवण नक्षत्र 11:18 तक रहेगा और उसके बाद धनिष्ठा लगेगा जो अगले दिन प्रात: 10:26 तक रहेगा।

3. इन दिन धृति योग 8:59 तक रहेगा।

4. आयुश्यमान योग 25 जुलाई प्रात: 3:15 से 26 जुलाई 12:43am तक रहेगा। इसके बाद सौभाग्य योग लगेगा।

5. राहु काल शाम 4:30 से शाम 6 तक रहेगा। इसमें कोई पूजा पाठ नहीं करते हैं।

6. पूजा के शुभ मुहर्त :

अभिजीत मुहूर्त:- 12:07 PM – 12:59 PM
अमृत काल:- 12:24 AM – 01:57 AM
ब्रह्म मुहूर्त- 04:22 AM – 05:10 AM
द्विपुष्कर योग 11:18 से प्रारंभ होगा जो अगले दिन प्रात: 4:4 तक रहेगा।
शुभ समय- 9:11 से 12:21, 1:56 से 3:32
7. पूजा का चौघड़िया:


* प्रात: 9 बजे से 10: 30 तक लाभ, उसके बाद अमृत 12 बजे तक रहेगा।
* दोपहर 1:30 से 3 बजे तक शुभ चौघड़िया रहेगा।
* फिर शाम में 6 बजे से 7:30 तक शुभ रहेगा। उसके बाद रात 8 बजे तक अमृत रहेगा।

नोट: स्थानीय सूर्योदय के अनुसार समय में कुछ सेकंड की घट-बढ़ रहती है। उपर्युक्त विवरण पंचांग आधारित है पंचांग भेद होने पर तिथि/मुहूर्त/समय में परिवर्तन होना संभव है।



और भी पढ़ें :