सावन माह में 4 सोमवार, पहला सोमवार 18 जुलाई को और अंतिम सोमवार 8 अगस्त को

हिन्दू पंचांग के अनुसार सावन मास को पांचवां महीना माना जाता है। वर्ष 2022 में सावन या श्रावण मास (Sawan 2022) गुरुवार, 14 जुलाई (Shravan Start Date) से शुरू हो रहा है। सावन/ श्रावण भगवान‍ शिव जी का प्रिय तथा उनकी आराधना-उपासना का पवित्र महीना है। इस पूरे महीने भर चारों तरफ हरियाली खिल उठती है। बरसात के दिन होने के कारण इस महीने का महत्व अधिक बढ़ जाता है। यह पूरा माह भक्तिमय रहता है।


सावन (श्रावण) में शिव जी की आराधना करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। इस माह में शिव जी की विधि-विधान से पूजा की जाती है। इस दौरान शिव रुद्राभिषेक का विशेष महत्व है। इस माह में शिव जी की पूजा के दौरान उन्हें कच्चा दूध, गंगा जल, काले तिल, धतूरा, बेलपत्र, भांग और उसके पत्ते, मिठाई आदि अर्पित करना शुभ माना जाता है। मान्यतानुसार ऐसा करने से भगवान शिव की कृपा अपने भक्त पर सदैव बनी रहती है।
शिव पुराण के अनुसार, जो व्यक्ति सावन में सोमवार व्रत रखता है उसकी सभी मनोकामनाएं शिव जी पूरी करते हैं। इस बार सावन में 4 सोमवार पड़ रहे हैं। आइए जानें-

सावन सोमवार की तिथियां-
sawan somvar list

1. पहला सावन सोमवार व्रत-18 जुलाई 2022, सोमवार।
2. दूसरा सावन सोमवार व्रत- 25 जुलाई 2022, सोमवार।

3. तीसरा सावन सावन सोमवार व्रत- 01 अगस्त 2022, सोमवार।

4. चौथा सावन सोमवार व्रत- 08 अगस्त 2022, सोमवार।

इसके साथ ही 12 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा का त्योहार मनाया जाएगा तथा सावन का आखिरी दिन यानी सावन मास की समाप्ति हो जाएगी।







और भी पढ़ें :