पुतिन के इस आरोप पर जेलेंस्‍की ने क्‍यों दिया अपने दो बच्‍चों का हवाला?

Last Updated: शुक्रवार, 11 मार्च 2022 (15:38 IST)
हमें फॉलो करें
पिछले 16 दिनों से रूस-यूक्रेन के बीच युद्ध चल रहा है। रूसी सेना कीव के और करीब पहुंच गई है। इस बीच रूस ने यूक्रेन पर आरोप लगाया है कि वो अमेरिका के साथ मिलकर बायोलॉजिकल और केमिकल हथियार तैयार कर रहा है।

इस पर जेलेंस्‍की ने भावुक कर देने वाला बयान दिया है। उन्‍होंने पुतिन को जवाब देते हुए अपने दो बच्‍चों की भी बात कर डाली है। उनके इस बयान की काफी चर्चा हो रही है।



अमेरिका के साथ मिलकर बायोलॉजिकल हथियार तैयार करने के पुतिन के आरोपों का जवाब देते हुए जेलेंस्‍की ने कहा,

'मैं एक योग्य देश का योग्य राष्ट्रपति हूं, इसके साथ ही मैं दो बच्चों का पिता हूं। मेरी जमीन पर कोई बायोलॉजिकल और केमिकल हथियार नहीं है। पूरी दुनिया और आप भी यह बात जानते हैं, लेकिन अगर रूस हमारे खिलाफ ऐसा कुछ करता है, तो उसे कड़े प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा।'

उधर अमेरिका की उप राष्‍ट्रपति कमला हैरिस की हंसी को लेकर भी चर्चा है। अमेरिका की उप राष्ट्रपति हंगरी में यूक्रेन के शरणार्थी संकट पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान किसी बात पर हंस पड़ी। इस पर यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की पूर्व प्रेस सचिव यूलिया मेंडेल ने ट्वीट करते हुए कहा कि अगर हैरिस अमेरिका की राष्ट्रपति बनती हैं तो यह एक त्रासदी होगी। हालांकि, विवाद बढ़ता देख उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया।

280 स्कूल-कॉलेज तबाह
वोलोदिमिर जेलेंस्की ने रूसी संपत्ति को जब्त करने के लिए कानून पर साइन कर दिए हैं। वहीं, यूक्रेन के शिक्षा मंत्री का दावा है कि रूस ने उनके देश में 280 स्कूल-कॉलेज तबाह कर दिए हैं।

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने आरोप लगा है कि मारियुपोल से नागरिकों को निकालने के लिए बनाए गए गलियारे पर रूसी सेना ने हमला किया।

अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने यूक्रेन युद्ध से प्रभावित हुए नागरिकों की मदद के लिए 5.3 करोड़ डॉलर की मदद देने की घोषणा की है।

रूस के डिप्टी PM ने भारत के पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी से ईंधन-ऊर्जा प्रोजेक्ट्स में सहयोग और रूस की यूनिवर्सिटीज में भारतीय छात्रों की स्टडी पर बात की।

जंगी माहौल में रूस ने हर दिन सुबह 10 बजे ह्यूमन कॉरिडोर बनाने की पेशकश की है, ताकि युद्ध में फंसे लोगों को निकाला जा सके और उन तक मानवीय सहायता पहुंचाई जा सके।

उधर, रूस ने यूक्रेन के चार बड़े शहरों को घेर लिया है और राजधानी कीव की सीमा के करीब तक पहुंच चुकी है। ताबड़तोड़ रूसी हमलों के बावजूद पूरब में खार्किव अभी यूक्रेन के पास है। वहीं उत्तर पूर्व में सुमी रूसी सैनिकों के घेरे में है, लेकिन ह्यूमन कॉरिडोर के जरिए यहां से हजारों लोग सुरक्षित निकलने में कामयाब रहे। इसके अलावा राजधानी कीव भी अभी यूक्रेन के पास है। कीव पर रूस की पैनी नजर है और शहर की सीमा पर चारों ओर से रूसी सैनिकों के वाहन देखे जा सकते हैं। पिछले दो दिनों में यूक्रेन के सुमी और कीव से 80 हजार लोगों को निकाल गया।



और भी पढ़ें :