आसाराम बापू की भविष्यवाणी, पहले ही पता था कि उनके साथ क्या होने वाला है?

Last Updated: गुरुवार, 20 जनवरी 2022 (15:00 IST)
हमें फॉलो करें
Asaram bapu ki bhavishyavani:
1941 में पाकिस्तान के सिंध इलाके के बेरानी गांव में पैदा हुए आसाराम बापू का असली नाम असुमल हरपलानी है। आसाराम का परिवार 1947 में भारत विभाजन के बाद भारत के अहमदाबाद शहर में आ बसा था। धीरे धीरे आसाराम बापू ने संत का चौला पहन लिया और समूचे उत्तर भारत में उनके प्रवचन और चूर्ण कथित भक्तों के बीच लोकप्रिय हो गए। भक्तों की संख्या बढ़ने के साथ ही राजनेताओं ने भी आसाराम के जरिए एक बड़े वोटर समूह में पैठ बनाने का प्रयास किया। फिलहाल आसाराम बापू जेल में हैं।

अगस्त 2013 में आसाराम के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज करवाने वाला शाहजहांपुर निवासी पीड़िता का पूरा परिवार घटना से पहले तक आसाराम का कट्टर भक्त था। 28 फरवरी 2014 की सुबह आसाराम और उनके बेटे नारायण साईं पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली सूरत निवासी दो बहनों के वकील ने केस लड़ा। 25 अप्रैल 2018 में उन्हें जोधपुर जेल के विशेष कोर्ट में सजा सुनाई गई। फिलहाल आसाराम बापू जेल में हैं। आश्चर्य यह है कि जेल से भी आसाराम बापू अपनी धर्म की दुकान चलाते रहे हैं, क्योंकि अभी भी उनके भक्तों का बहुत बड़ा समूह मौजूद है जो सोशल मीडिया पर भी सक्रिय है। हाल ही में उनके द्वारा कथित एक भविष्यवाणी को वायरल किया जा रहा है।

कहते हैं कि आसाराम बापू ने ही 14 फरवरी को वैलेंटाइन दिवस की जगह मातृ पितृ दिवस पूजन मनाने का अपने भक्तों को आदेश दिया था। हाल ही में आसाराम बापू के भक्त कहते हैं कि उन्होंने अपने साथ घटने वाली घटनाओं की भविष्यवाणी पहले ही कर दी थी। 25 नवंबर साल 2004 में अहमदाबाद आश्रम में सत्संग के दौरान उन्होंने अपने साथ घटने वाली घटनाओं का जिक्र करके कहा था कि हमारा भोलेभाले लोगों को गुमराह करके हमारे विरुद्ध खड़ा कर दिया जाएगा। अब आश्रम और संपत्तियों पर भी आंधि चलेगी। उसके लिए तुम्हें भी तैयार रहना पड़ेगा। कूप्रचार होंगे, कुछ का कुछ करेंगे। यह सुनियोजित षड़यंत्र है। मेरा किसी व्यक्ति से, किसी संप्रदाय, धर्म और पंथ से विरोध नहीं है। फिर भी मुझे यह कहना पड़ता है कि जो हमारी संस्कृति पर सीधे या अनसीधे आघात करते हैं, उन्हें चेताने का काम तो मुझे और मेरे सभी साधकों को करना ही होगा।
आसाराम ने अपने एक वीडियो में यह भी कहा था कि मुझे तिहाड़ जेल जाने का भी संकल्प हो रहा है। सच बोलता हूं। क्या पता किस निमित्त से जाऊंगा। ऐसे ही जाऊं, महीना दो महीना...सरकार ऐसी कोई योजना कर दे की मुझे रहने दे तिहाड़ में। सारे जेल बदल दूंगा। इसके बाद एक नाबालिग के साथ बलातकार मामले में उन्हें साल 2015 में उन्हें तिहाड़ जेल जाना पड़ा। इसी तरह की कई भविष्यवाणी हैं। साथ ही उन्होंने देश और दुनिया को लेकर भी भविष्यवाणी की है।

गौरतलब है कि यौन शोषण के दोषी आसाराम वर्तमान में जोधपुर सेंट्रल जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं और उनकी स्वास्थ्य स्थितियों के कारण उसे महीने में एक या दो बार एम्स जोधपुर लाया जाता है। आसाराम बापू पर 2013 में 16 साल की एक लड़की ने रेप का आरोप लगाया था और 2014 में उन्हें गिरफ्तार किया गया था।



और भी पढ़ें :