विजयादशमी पर तय होगा कि कब समाप्त होगी उत्तराखंड की चारधाम यात्रा

एन. पांडेय| Last Updated: गुरुवार, 14 अक्टूबर 2021 (19:40 IST)
देहरादून। चारधाम यात्रा 2021 कब होगी, इसका पता विजयादशमी पर पंचांग गणना के द्वारा निकाले जाने वाले मुहूर्त से लग जाएगा। विजयादशमी पर बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि घोषित होगी जबकि केदारनाथ धाम और यमुनोत्री धाम और गंगोत्री धाम के बंद होने की भी तिथि इसके साथ ही तय की जाएगी। जैसे ही इस साल यात्रा ने जोर पकड़ना शुरू किया, वैसे ही इसके बंद होने की तिथियों के भी सामने आने का दिन आ जाने से कारोबारी एक बार फिर निराश हैं।

हालांकि परंपरा के अनुसार केदारनाथ और यमुनोत्री के कपाट भैया दूज के दिन बंद होते हैं, इस बार यह पर्व 6 नवंबर को पड़ रहा है। लेकिन इन सब धामों के कपाट बंद किए जाने की औपचारिक घोषणा कल शुक्रवार को विजयादशमी पर ही होगी। विजयदशमी के मौके पर केदारनाथ भगवान की पंचमुखी डोली के ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ आने का कार्यक्रम भी घोषित किया जाएगा। गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए परंपरागत रूप से गोवर्धन पूजा/अन्नकूट पर्व के दिन होते हैं। इस साल यह दिन 5 नवंबर को पड़ रहा है। इस सबके अलावा विजयादशमी के ही दिन बद्रीनाथ धाम, श्री उद्धवजी, श्री कुबेरजी और आदिगुरु शंकराचार्य की गद्दी के शीतकालीन प्रवास पर आने का कार्यक्रम भी घोषित होगा।
द्वितीय केदार मद्महेश्वर और तृतीय केदार तुंगनाथ के कपाट बंद होने की तिथि कल विजयादशमी को शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में तय की जाएगी। पंच पूजाओं का कार्यक्रम, श्री उद्धवजी एवं कुबेरजी के पांडुकेश्वर आगमन और श्री आदिगुरु शंकराचार्य की गद्दी के श्री नृसिंह मंदिर जोशीमठ आने का कार्यक्रम भी विजयादशमी पर ही घोषित होगा।



और भी पढ़ें :