नड्डा से मिले हरक सिंह रावत और उमेश शर्मा, विद्रोह की चर्चाओं पर लगा ब्रेक

निष्ठा पांडे| पुनः संशोधित रविवार, 17 अक्टूबर 2021 (07:43 IST)
देहरादून। में भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और विधायक की भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ मुलाकात के बाद विद्रोह की चर्चाओं पर ब्रेक लगा है।
दरअसल, कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और विधायक उमेश शर्मा काऊ कांग्रेस नेता और प्रदेश में नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह के साथ एक ही फ्लाइट से दिल्ली जाते देखे गए थे। इन नेताओं के दिल्ली दौरे की सूचना मिलते ही राजनीतिक गलियारों में कई चर्चाएं शुरू हो गई थी
कि इन नेताओं की दिल्ली में कांग्रेस आलाकमान से तो बात नहीं कराई जा रही।

दिल्ली में दोनों नेताओं ने सियासी अटकलों के बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करने से स्थिति सा हुई है। मुलाकात के दौरान राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी भी इनके साथ दिखाई दे रहे हैं।
बताया जा रहा है कि नड्डा से मुलाकात से पहले दोनों नेताओं ने उत्तराखंड प्रभारी और राज्यसभा सदस्य दुष्यंत कुमार गौतम से भी मुलाकात की। इस दौरान नेताओं के बीच उत्तराखंड विधानसभा चुनाव की रणनीति और पार्टी में कद बढ़ाने को लेकर भी चर्चा हुई।

ऐसे में उम्मीद की जा रही है की कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को चुनाव संचालन समिति की जिम्मेदारी दी जा सकती है। ये नेता दिल्ली की फ्लाइट में कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष के साथ यात्रा करते हुए देखे जाने से ये अटकलें लगी थी कि कहीं फिर से कांग्रेस में तो इनको शामिल कराने की तैयारी नहीं है?
हरक सिंह रावत के साथ उमेश शर्मा काऊ की रवानगी को लेकर भी यह चर्चा कुछ लोग कर रहे हैं कि हरक उनको यशपाल आर्य के पार्टी छोड़कर जाने से सरकार में रिक्त कैबिनेट में लिए जाने का आग्रह केन्द्रीय कमांड से कराने को साथ ले गए हैं।



और भी पढ़ें :