मप्र में नाबालिग लड़की से दुष्‍कर्म, महंत समेत 2 आरोपी गिरफ्तार

पुनः संशोधित गुरुवार, 31 मार्च 2022 (00:15 IST)
हमें फॉलो करें
रीवा (मध्य प्रदेश)। मध्य प्रदेश में रीवा के एक सरकारी में 2 दिन पहले एक नाबालिग लड़की से बलात्कार करने के मामले में सीताराम दास उर्फ सीताराम त्रिपाठी सहित 2 लोगों को बुधवार को किया गया।
मोरबा अनुविभागीय पुलिस अधिकारी (एसडीओपी) राजीव पाठक ने बताया कि आरोपी महंत सीताराम दास को बुधवार शाम को गिरफ्तार कर लिया गया।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, आरोपी महंत को पुलिस ने प्रदेश के सिगरौली जिले से गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि जब महंत को गिरफ्तार किया गया, उस वक्त वह हुलिया बदलने के लिए बैढन बस स्टैंड में एक नाई की दुकान में गया हुआ था।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कड़ी चेतावनी के बाद हरकत में आई पुलिस ने सायबर सेल की मदद से महंत को पकड़ा है।

रीवा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवकुमार वर्मा ने बताया कि इस मामले में मुख्य आरोपी महंत सीताराम त्रिपाठी है, जो कथावाचक है। उन्होंने कहा कि महंत के सहयोगी नाबालिग लड़की को बहला-फुसलाकर 28 मार्च को सर्किट हाउस लाए और वहां उसके साथ दरिंदगी की गई।

वर्मा ने कहा कि सर्किट हाउस के कमरे में महंत और उसके सहयोगियों ने शराब पी और पीड़िता को भी जबरदस्ती शराब पिलाई। पुलिस के अनुसार, इसके बाद महंत ने पीड़िता के साथ कमरे में दरिंदगी की और घटना के बारे में किसी को बताने के लिए जान से मारने की धमकी दी।

पुलिस अधिकारी का कहना है कि महंत के सहयोगियों ने बाहर से कमरे को बंद कर ताला लगा दिया था। उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद महंत के सहयोगी इस लड़की को दूसरे स्थान ले जा रहे थे और इसी दौरान वह कार से कूदकर उनके चंगुल से बच निकली और उसने सिविल लाइन थाने पहुंचकर आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

वर्मा ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने एक अन्य व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया है, जिसके नाम पर सर्किट हाउस में यह कमरा बुक किया गया था, जबकि महंत के अन्य सहयोगी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

उन्होंने कहा कि पुलिस ने महंत सीताराम, विनोद पाण्डेय और धीरेन्द्र सहित अन्य आरोपियों पर भादंसं एवं पॉक्सो कानून की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट किया, मध्य प्रदेश के रीवा में सर्किट हाउस में एक नाबालिग छात्रा से एक कथावाचक एवं अन्य लोगों द्वारा गैंगरेप की घटना बेहद निंदनीय। कैसे इन लोगों को सर्किट हाउस आवंटित हुआ? कैसे उसमें शराब पार्टी हुई? यह जांच का विषय है। अपराधियों पर, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो।(भाषा)



और भी पढ़ें :