नाबालिग लड़की ने परिवार के 4 सदस्यों को जहर देकर मारा, भेदभाव से थी खफा

Last Updated: मंगलवार, 19 अक्टूबर 2021 (22:06 IST)
चित्रदुर्ग। कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले में 'भेदभाव' से खफा 17 वर्षीय एक लड़की ने के 4 सदस्यों को कथित तौर पर देकर मार डाला। पुलिस ने यह जानकारी दी। जिले के इसामुद्रा गांव में लंबानिहट्टी में यह घटना जुलाई में हुई और अब मामला प्रकाश में आया है। मृतकों में लड़की के पिता, मां, दादी और बहन है जबकि उसका 19 साल का भाई जहर से बीमार पड़ गया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार 12 जुलाई को उन्होंने (परिवार) रात के भोजन में किशोरी द्वारा बनाए गए 'रागी मुद्दे' (रागी के गोले) खाए। पुलिस के अनुसार इनमें कीटनाशक मिला हुआ था जिससे सभी को उल्टियां आने लगीं और उनमें से 4 की हो गई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि किशोरी ने रात के भोजन में बहन द्वारा तैयार चावल और रसम खाया था। खाद्य सामग्रियों और बर्तनों को जांच के लिए फोरेंसिक प्रयोगशाला भेजा गया था और जांच के बाद रागी के गोले में कीटनाशक मिले होने की पुष्टि हुई थी।
पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान उन्हें पता चला कि आरोपी अपने ननिहाल में पली-बढ़ी थी और 3 साल पहले ही अपने माता-पिता के घर आई थी। उसकी शिकायत थी कि माता-पिता उसके और भाई-बहनों के बीच 'भेदभाव' करते हैं। वह इस बात को लेकर परेशान थी कि 'उसके साथ' अच्छा व्यवहार नहीं हो रहा और उसके भाई-बहन को ज्यादा स्नेह दिया जा रहा है।
अधिकारियों ने बताया कि इस वजह से उसने जहर देने का फैसला किया। परिवार के सदस्यों को जहर देने की कोशिश वह पहले भी कर चुकी थी लेकिन उसमें वह सफल नहीं हो पाई। नाबालिग होने की वजह से आरोपी को लड़कियों के रिमांड होम भेज दिया गया।(भाषा)



और भी पढ़ें :