Live : महाराष्ट्र में बंद का असर, पथराव के बाद बंद हुई बेस्ट सेवाएं

Last Updated: सोमवार, 11 अक्टूबर 2021 (13:35 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महाविकास आघाडी (MVA) के सहयोगी दलों शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने लखीमपुर खीरी में हिंसा के विरोध में महाराष्ट्र बंद का आज आह्वान किया है। लखीमपुरम हिंसा में 4 किसानों सहित 8 लोगों की मौत हो गई थी।

महाविकास आघाडी ने कहा है कि हम लोगों से अपील करते हैं कि वे बंद में शामिल हों। शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने शनिवार को कहा कि उनकी पार्टी बंद में पूरी ताकत से शामिल होगी। बंद से जुड़ा हर अपडेट-
01:33PM, 11th Oct

9 बसों को नुकसान पहुंचाया : बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रासंपोर्ट (बेस्ट) की नौ बसों को नुकसान पहुंचाया गया। बेस्ट के प्रवक्ता मनोज वरदे ने मीडिया को बताया कि कल रात 12 बजे धारावी, मनखुर्द, शिवाजी नगर, ओशिवरा और घाटकोपर इलाके में कुछ लोगों ने चलती हुई बसों पर पत्थर फेंके। मुंबई में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) की सांसद सुप्रिया सुले ने भी इस दौरान सड़क पर आकर बंद में शामिल हुईं और दक्षिण मुंबई में पार्टी कार्यकताओं को संबोधित किया।
12:01PM, 11th Oct
पथराव के बेस्ट सेवाएं बंद : महाराष्ट्र में तीन सत्तारूढ़ दलों द्वारा बुलाए गए महाराष्ट्र बंद के मद्देनजर यहां कुछ स्थानों पर पथराव की घटनाओं के बाद बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट (बेस्ट) की बस सेवाएं सोमवार को मुंबई में बंद कर दी गईं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। बेस्ट द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि सुबह-सुबह धारावी, मानखुर्द, शिवाजी नगर, चारकोप, ओशिवरा, देवनार और इनऑर्बिट मॉल के पास नौ बसें क्षतिग्रस्त हो गईं, इनमें पट्टे पर किराए पर ली गई एक बस भी शामिल है। बयान में कहा गया, ‘‘बेस्ट प्रशासन ने पुलिस सुरक्षा की मांग की है और स्थिति की समीक्षा के बाद सभी डिपो से बसों का संचालन किया जाएगा।’’ सत्तारूढ़ शिवसेना से संबद्ध बेस्ट कामगार सेना के नेता सुहास सामंत ने रविवार को एक वीडियो क्लिप में सभी बेस्ट कर्मचारियों से बंद का समर्थन करने की अपील की। बेस्ट बसें और कई पारंपरिक ‘काली-पीली कैब’ सड़कों से दूर रहीं, स्थानीय ट्रेनों से आने-जाने के लिए उपनगरीय रेलवे स्टेशनों पर भारी भीड़ थी, जो निर्धारित समय के अनुसार चल रही थीं। महाराष्ट्र की महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में तीनों सहयोगी दलों शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस ने लोगों से किसानों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए आधी रात से शुरू हुए बंद का पूरे दिल से समर्थन करने की अपील की है। सुबह के समय मुंबई और आसपास के इलाकों में आवश्यक वस्तुओं की बिक्री में लगे लोगों को छोड़कर, दुकानें और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। फेडरेशन ऑफ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष वीरेन शाह ने कहा कि उन्होंने बंद के समर्थन में दुकानों को आधे दिन के लिए बंद रखने का फैसला किया है। शाह ने बताया, ‘‘दुकानें शाम चार बजे से फिर से खुलेंगी।



और भी पढ़ें :