तमंचे पर डिस्को, बार बाला के ठुमकों के बीच चलीं दनादन गोलियां...

रांची के सुखदेवनगर इलाके में एक नेता के यहां ऑर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया था। नाचने के लिए बार बालाएं भी मौजूद थीं। इन बार बालाओं के साथ लोगों ने न सिर्फ ठुमके लगाए, बल्कि अपने तमंचे और बंदूकों से दनादन गोलियां भी चलाईं।

पुनः संशोधित मंगलवार, 26 अक्टूबर 2021 (16:25 IST)
रांची। जिन घरों में बंदूकें, तमंचे होते हैं, वहां समय-समय पर उनका प्रदर्शन भी किया जाता है। अपनी धाक बनाने के लिए गोलियां भी दागी जाती हैं। शादी-समारोहों में इस तरह की घटनाएं आम होती हैं।


ताजा मामले की राजधानी रांची का है।
रांची के सुखदेवनगर इलाके में एक नेता के यहां ऑर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया था। नाचने के लिए बार बालाएं भी मौजूद थीं। इन बार बालाओं के साथ लोगों ने न सिर्फ ठुमके लगाए, बल्कि अपने तमंचे और बंदूकों से दनादन गोलियां भी चलाईं।

जानकारी के मुताबिक इस में कई नेता और जमीन कारोबारी शामिल थे। इस दौरान एक तरफ के बैरल से निकल रही धुएं की गंध थी, वहीं बार बालाओं के ठुमकों का जादू भी हर किसी को मदमस्त कर रहा था। बताया जा रहा है कि 17 अक्टूबर को विकास महतो नामक व्यक्ति के पुत्र के जन्मदिन पार्टी थी। प्रशासन से अनुमति लिये बिना आर्केस्ट्रा प्रोग्राम का आयोजन किया गया था।

उल्लेखनीय है कि राजधानी रांची में लाइंसेंसी हथियारों से के मामले लगातार आ रहे हैं। हालांकि पुलिस द्वारा इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं किए जाने से इनकी संख्‍या बढ़ ही रही है।



और भी पढ़ें :