कश्मीरी पंडित के हत्यारे आतंकी के घर की कुर्की, पनाह देने वाले पिता और 3 भाइयों को किया गिरफ्तार

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित बुधवार, 17 अगस्त 2022 (19:08 IST)
हमें फॉलो करें
जम्मू। कश्मीर पुलिस ने शोपियां में एक कश्मीरी पंडित की हत्या करने वाले आतंकी के घर को कुर्क करने की प्रक्रिया शुरू कर दी, जबकि उसके पिता और तीन भाइयों को उसे पनाह देने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस ने कहा कि आदिल वानी ने मंगलवार को शोपियां में एक बगीचे में सुनील कुमार भट की हत्या कर दी और बाद में कुटपोरा में अपने घर में शरण ली। सुरक्षाबलों ने आदिल के घर की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया, लेकिन आतंकी पुलिस दल पर हथगोले फेंककर अंधेरे की आड़ में फरार हो गए।

तलाशी अभियान के दौरान पुलिस ने वानी के घर से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया, जिसके बाद अधिकारियों ने उनके पिता और तीन भाइयों को गिरफ्तार करने के अलावा उनके घर को कुर्क करने की प्रक्रिया शुरू की। याद रहे शोपियां में सेब के बाग में मंगलवार को आतंकियों ने दो भाइयों पर गोलीबारी की।
इस हमले में एक कश्मीरी पंडित की मौत हो गई, वहीं उसका भाई घायल हो गया। मृतक की पहचान सुनील कुमार भट्ट के रूप में हुई, जबकि घायल व्यक्ति का नाम पिंटू कुमार बताया गया। दोनों भाई सेब के बाग में एक साथ काम करते थे।

मिला हथियारों का जखीरा : सुरक्षाकर्मियों ने आतंकवादियों की गोलीबारी व ग्रेनेड हमले का जवाब दिया परंतु आतंकी वहां से निकल गए थे। सुरक्षाबलों का एक दल आतंकियों का पीछा करने लगा जबकि दूसरे दल ने उस मकान की तलाशी लेना शुरू कर दिया, जहां आतंकी छिपे हुए थे। मकान के ऊपरी हिस्से में बने आतंकी ठिकाने की तलाशी लेने पर सुरक्षाबलों को हथियारों का बड़ा जखीरा मिला।
पुलिस का कहना है कि हथियारों की संख्या को देख यह लगता है कि आतंकी किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे थे। आज सुबह भी शोपियां के आसपास के इलाकों में आतंकियों की तलाश में सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ है।

2 संदिग्धों की तलाश : दूसरी और राजौरी शहर के आसपास दो संदिग्ध देखे जाने के बाद सेना व पुलिस के जवानों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया है, लेकिन अभी तक किसी भी प्रकार की कोई सफलता नहीं मिली है। जानकारी के अनुसार देर शाम राजौरी शहर के साथ आसपास के क्षेत्रों में दो संदिग्ध देखे गए।
इस बात की जानकारी जैसे ही खुफिया तंत्र को लगी तो उसी समय उन क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी खंगालने का कार्य शुरू कर दिया गया और सीसीटीवी में भी दो संदिग्ध देखे गए, जिनमें से एक के पास बैग है और एक बिना बैग के चल रहा है। यही संदिग्ध सैन्य शिविरों के आसपास भी देखे गए हैं। इसके बाद पूरे क्षेत्र में तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है। सूत्रों का कहना है कि दोनों संदिग्ध आतंकी हो सकते हैं और क्षेत्र में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हो सकते हैं। (फाइल फोटो)



और भी पढ़ें :