मिशन 2023 के लिए भूपेश बघेल का 'नायक' अवतार, फैसला ऑन स्पॉट और बड़े एलानों के साथ 90 विधानसभा सीटों के दौरे का आगाज

विशेष प्रतिनिधि| पुनः संशोधित गुरुवार, 5 मई 2022 (18:51 IST)
हमें फॉलो करें
छत्तीसगढ़ में भले ही विधानसभा चुनाव होने में डेढ़ साल का वक्त बचा हुआ है लेकिन सियासी दलों ने चुनावी बिगुल फूंक दिया है। चुनाव की तैयारियों में सभी राजनीतिक दल जुट गई हैं. के लिए विपक्षी दलों ने भी रणनीति बनानी शुरु कर दी है। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जमीनी हकीकत का जायजा लेने के लिए प्रदेश की 90 विधानसभा सीटों के दौरे पर निकल चुके है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ग्राउंड रियल्टी चेक करने के लिए हर विधानसभा सीट के तीन-तीन गांवों में पहुंचेगे। अपने दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ग्रामीणों की शिकायत पर ऑन द स्पॉट निर्णय भी ले रहे हैं। गुरुवार को अंबिकापुर दौरे के दौरान ग्रामीणों की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने कार्यपालन अभियंता को मौके पर निलंबित कर दिया। इसके साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ा एलान करते हुए कहा कि 10वीं और 12वीं में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को सरकार हेलीकॉप्टर राइड कराएगी।
अपने दौरे के दौरान मुख्यमंत्री पेड़ के नीचे पंचायत लगाकर लोगों की समस्या सुन रहे है। बुधवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कुसमी में पेड़ के नीचे चौपाल लगाकार लोगों की समस्या सुनी और मौके पर उनकी समस्याओं का निराकरण भी किया। मुख्यमंत्री ने कुसमी-सामरी-बलरामपुर सड़क में कंठी घाट के पास 8 किलोमीटर सड़क डामरीकरण करने, कुसमी में आलू, टाउ और मिर्ची के फूड प्रोसेसिंग प्लांट की स्थापना, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में नई एक्सरे मशीन, आईटीआई के नए भवन का निर्माण और वहां नए ट्रेड खोलने और कुसमी नगर पंचायत को फायर ब्रिगेड वाहन उपलब्ध कराए जाने की घोषणा की है।

दरअसल अपने दौरे के दौरान भूपेश बघेल स्थानीय स्तर पर विधायकों के कामकाज के परफार्मेंस पर लोगों का फीडबैक भी ले रहे है। 2023 विधानसभा चुनाव में जीत के लिए भूपेश बघेल के सामने सबसे बड़ी चुनौती विधाकों की परफॉमेंस रिपोर्ट है। सरगुजा और बस्तर संभाग में 2018 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 26 सीटें जीती थी। कांग्रेस ने 2018 के विधानसभा चुनाव में सरगुजा की सभी 14 सीटें और बस्तर की 12 सीटें जीती थी। पिछले दिनों पार्टी की बैठक में परफॉरमेंस रिपोर्ट पर पीसीसी चीफ ने नाराजगी जताई थी। ऐसे में मुख्यमंत्री 90 विधानसभा के दौरे के दौरान विधायकों का रिपोर्ट कार्ड और कांग्रेस को लेकर जनता की नब्ज टटोलने की कोशिश करेंगे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के इस दौरे ने सियासी पारा को गर्मा दिया है। नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के इस दौरे को केवल एक दिखावा बताते है। वह कहते हैं कि मुख्यमंत्री को कहा जाना यह पूरी तरह से पहले तरह से तय है, इसलिए इससे आम जनता को कोई फायदा नहीं होगा और पूरा दौरा पूरी तरह से प्रयोजित है।



और भी पढ़ें :