असम के सीएम बोले, अगर आरोपी भागे तो एनकाउंटर सही

Last Updated: मंगलवार, 6 जुलाई 2021 (12:41 IST)
गुवाहाटी। के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने एनकाउंटर को उचित ठहराते हुए कहा कि अपराधी अगर भागने का प्रयास करते हैं या गोलीबारी करने के लिए से हथियार छीनते हैं तो मुठभेड़ पैटर्न होना चाहिए।

असम में बढ़ती मुठभेड़ों की बढ़ती संख्या पर सियासत गरमा गई है। पुलिस ने राज्य में हिरासत से भागने का प्रयास कर रहे करीब एक दर्जन संदिग्ध उग्रवादियों और अपराधियों को हालिया समय में मुठभेड़ में मार गिराया गया है।

सरमा ने असम के सभी थाने के प्रभारियों के साथ पहली आमने-सामने की बैठक में कहा कि अगर कोई आरोपी सर्विस बंदूक छीनकर भागने का प्रयास करता है या भागता है और अगर वह बलात्कारी है तो कानून ऐसे लोगों के पैर में गोली मारने की इजाजत देता है, न कि छाती में।
उन्होंने कहा कि जब कोई मुझसे पूछता है कि क्या राज्य में मुठभेड़ का पैटर्न बन गया है तो मैंने कहा कि अगर अपराधी पुलिस हिरासत से भागने का प्रयास करता है तो (मुठभेड़) पैटर्न होना चाहिए।

सरमा ने कहा कि आरोपी या अपराधी पहले गोली चलाते हैं या भागने का प्रयास करते हैं तो कानून में पुलिस को गोली चलाने की अनुमति है। उन्होंने कहा कि सामान्य प्रक्रिया में आरोपी पर आरोपपत्र दायर किया जाएगा और उसे दंड
दिलाया जाएगा लेकिन अगर अगर कोई भागने का प्रयास करता है तो कतई बर्दाश्त नहीं करने का रूख अपनाएंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :