अरुणाचल प्रदेश में भूस्खलन की घटनाओं में 4 लोगों की मौत

पुनः संशोधित सोमवार, 16 मई 2022 (21:49 IST)
हमें फॉलो करें
ईटानगर। में के कारण हुए की चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि भूस्खलन के कारण एक मकान ध्वस्त हो गया, जिससे उसमें रहने वाले दो लोगों की मौत हो गई।

ईटानगर के पुलिस अधीक्षक जिमी चिराम ने बताया कि रविवार को भूस्खलन के कारण एक कच्चा मकान ढह गया, जिसके मलबे में अब भी एक महिला फंसी हुई है। मलबे से दो शवों को निकाला गया है, जबकि महिला के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता।

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि महिला को निकालने के लिए बचाव अभियान जारी है, लेकिन खराब मौसम के कारण इसमें समस्या आ रही है।

ईटानगर के थाना प्रभारी फसांग सिमी ने बताया कि मृतकों की पहचान नागेन बर्मन (50) और तपस राय (15) के तौर पर हुई है। वहीं, कुसुम राय (35) अब भी मलबे में दबी हुई हैं। सिमी ने बताया कि 3 लोग घायल भी हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के सूत्रों ने बताया कि उसका दल उपकरणों के पहुंचने का इंतजार कर रहा है क्योंकि घटनास्थल पर उपकरणों के बिना बचाव अभियान चलाना संभव नहीं है।

चिराम ने बताया कि एक अन्य घटना में गंगा-जुली बस्ती रोड पर भूस्खलन की चपेट में आने से लोक निर्माण विभाग के दो श्रमिकों की जान चली गई, जो कीचड़ में फंसी मोटरसाइकिल निकालने का प्रयास कर रहे थे।
अधिकारियों ने बताया कि राज्य के अधिकतर हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है, जिससे कुछ जिलों में भूस्खलन की घटनाएं हुई हैं। उन्होंने बताया कि प्रशासन ने यहां के सरकारी उच्च माध्यमिक स्कूल, नाहरलगुन के सरकारी माध्यमिक स्कूल और बंदरदेवा के निकम निया हॉल में अस्थायी राहत शिविर बनाए हैं।



और भी पढ़ें :