राज्यसभा चुनाव के लिए 16 सीटों पर मतदान, राजस्थान और हरियाणा की 2 सीटों पर सबकी नजर

Last Updated: शुक्रवार, 10 जून 2022 (10:15 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। देश की 16 सीटों पर राज्यसभा चुनावों के लिए सुबह 9 बजे से चल रहा है। वोटिंग शाम 4 बजे तक चलेगी। इन 16 सीटों में से 14 सीटों पर स्थिति स्पष्ट नजर आ रही है। और हरियाणा की 2 सीटों पर सबकी नजर अभी भी सबकी नजर बनी हुई है।

राजस्थान में सुभाष चंद्रा और प्रमोद तिवारी में कड़ा मुकाबला : राजस्थान में चार सीटों के लिए मतदान चल रहा है। इनमें से 2 पर कांग्रेस और 1 पर भाजपा की जीत तय है। चौथी सीट पर पेच फंसा हुआ है। इस सीट पर सुभाष चंद्रा और प्रमोद तिवारी के बीच कड़ा मुकाबला है। चंद्रा को भाजपा ने समर्थन दिया है।
कांग्रेस ने तीन सीटों के लिए मुकुल वासनिक, प्रमोद तिवारी और रणदीप सुरजेवाला को मैदान में उतारा है। वहीं, भाजपा ने पूर्व मंत्री घनश्याम तिवाड़ी को अपना आधिकारिक उम्मीदवार बनाया है, जबकि वह मीडिया कारोबारी सुभाष चंद्रा का भी समर्थन कर रही है।

संख्या बल के हिसाब से राजस्थान की 200 सीटों वाली विधानसभा में कांग्रेस अपने 108 विधायकों के साथ दो सीटें और भाजपा 71 विधायकों के साथ एक सीट आराम से जीत सकती है। इसके बाद कांग्रेस के पास 26 और भाजपा के पास 30 अधिशेष वोट होंगे।
कांग्रेस को अपने तीसरे प्रत्याशी को जिताने के लिए 15 और वोट (कुल 41) चाहिए। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि निर्दलीय और भारतीय ट्राइबल पार्टी के विधायकों को मिलाकर उनके पास कुल 126 विधायकों का समर्थन है।

वहीं, भाजपा के 30 अधिशेष और आरएलपी के तीन सदस्यों के मत के साथ निर्दलीय चंद्रा के पास कुल 33 वोट हैं। चंद्रा को राज्यसभा सदस्य निर्वाचित होने के लिए 41 मत चाहिए। यानी वह जीत से आठ मत दूर हैं।
आसान नहीं है अजय माकन की राह : हरियाणा से राज्यसभा की जिन दो सीट के लिए चुनाव होना है उनमें से एक पर कांटे की टक्कर होने की संभावना है। भाजपा ने पूर्व मंत्री कृष्ण लाल पंवार को मैदान में उतारा है जबकि अजय माकन कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। कृष्ण लाल पंवार की जीत तय है। दूसरी सीट के लिए अजय माकन और कार्तिकेय शर्मा में कड़ा मुकाबला है।
अजय माकन ने मतदान से जीत का दावा किया वहीं इंडियन नेशनल लोक दल के एकमात्र विधायक अभय सिंह चौटाला ने कार्तिकेय शर्मा का समर्थन करने की घोषणा की। शर्मा भाजपा-जजपा गठबंधन और अधिकतर निर्दलीय उम्मीदवारों द्वारा समर्थित एक निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में मैदान में उतरे हैं। निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू के वोट पर सभी की नजरें बनी हुई है।

कांग्रेस ने खरीद-फरोख्त की आशंका से अपने विधायकों को एक सप्ताह पहले रायपुर स्थानांतरित कर दिया था। वे आज ही चंडीगढ़ पहुंचे हैं। दावा किया जा रहा है कि नाराज विधायक कुलदीप विश्नोई को भी पार्टी ने साध लिया है। कांग्रेस नेता हुड्डा ने दावा किया कि हमारे पास पर्याप्त संख्या है और हमारा उम्मीदवार 31 मतों से आराम से जीत जाएगा।
महाराष्‍ट्र में ओवैसी की पार्टी का कांग्रेस को समर्थन : ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने महाराष्ट्र में के लिए शुक्रवार को हो रहे मतदान में कांग्रेस के प्रत्याशी के पक्ष में वोट देने का निर्णय लिया है। औरंगाबाद से एआईएमआईएम के लोकसभा सदस्य इम्तियाज जलील ने सुबह नौ बजे मतदान प्रारंभ होने से कुछ घंटे पहले यह घोषणा की।
उन्होंने ट्वीट किया, 'राज्यसभा सीट के लिए महाराष्ट्र से हमारे एआईएमआईएम के 2 विधायकों को कांग्रेस के प्रत्याशी इमरान प्रतापगढ़ी को वोट देने के लिए कहा गया है। हम उन्हें अपनी शुभकामनाएं देते हैं।'

महाराष्ट्र से 6 सीटों के लिए 6 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। ऐसा दो दशक बाद हो रहा है जब राज्यसभा चुनाव में मतदान की स्थिति आई है। मतदान की प्रक्रिया नौ बजे शुरू हुई और यह शाम चार बजे तक चलेगी।



और भी पढ़ें :