मासिक दुर्गाष्टमी पर क्या करें, क्या न करें

Durgashtami
हर माह आने वाली शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को मासिक दुर्गाष्टमी व्रत मनाया जाता है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, का मासिक दुर्गा अष्टमी पर्व मंगलवार, 14 सितंबर, को मनाया जाएगा। मासिक दुर्गाष्टमी को मास दुर्गाष्टमी के रूप में भी जाना जाता है।

मासिक दुर्गाष्टमी के दिन क्या करें-

मासिक दुर्गाष्टमी के दिन सुबह जल्दी स्नानादि करके साफ वस्त्र धारण करें।

पूजन से पहले घर में स्थित मंदिर को तोरण, मांगलिक पत्र एवं पुष्पों से सजाएं।

एक चौकी पर लाल कपड़ा बिछाकर देवी दुर्गा की प्रतिमा स्थापित करें।

मां दुर्गा को लाल चुनरी, सिंदूर, अक्षत, लाल पुष्प अर्पित करें। इस दिन गंगाजल छिड़के तथा पवित्रता के साथ देवी दुर्गा का पूजन करें।

धूप, अगरबत्ती एवं दीप जलाकर माता की आरती उतारें।

मिठाई व फलों का प्रसाद चढ़ाएं।

दुर्गा चालीसा का पाठ करें।

प्रसाद वितरित करें।

छोटी कन्याओं को भोजन कराएं एवं भेंट अथवा दक्षिणा दें।

दिन भर उपवास रखकर दुर्गा मंत्रों का जाप करें।

इस दिन संयम तथा ब्रह्मचर्य का पालन करें।
आज क्या न करें-

घर को साफ-सफाई करें, गंदगी न रखें।

किसी की निंदा न करें।

सास-ससुर, माता-पिता, ननद, बेटी एवं गुरु का अपमान न करें।

भोग-विलास की चीजों से दूर रहें।

क्रोध नहीं करें और ना ही झूठ बोलें।

- RK




और भी पढ़ें :