बापू की समाधि से 'हे राम' हटाकर दिखाओ तो जानें...

कीर्ति राजेश चौरसिया| पुनः संशोधित शनिवार, 31 मार्च 2018 (14:10 IST)
हमें फॉलो करें
केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने परोक्ष रूप से मायावती, सोनिया गांधी और ममता बनर्जी पर परोक्ष हमला करते हुए कहा कि यदि किसी को लगता है कि राम के नाम पर राजनीति हो रही है तो वे महात्मा गांधी की समाधि पर लिखा हुआ 'हे राम' को मिटाकर दिखाएं।

सागर के अल्प प्रवास पर आईं उमा भारती से डॉ. आंबेडकर के नाम के साथ रामजी जोड़ने पर सवाल किया गया था, इस पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस और बसपा ने राजनीति के चलते ही वर्षों से छिपाकर रखा था कि डॉ. आंबेडकर के पिता का नाम रामजी था। मैं इसकी घोर निंदा करती हूं।

केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि अगर मायावती, ममता बनर्जी को और सोनिया गांधी को भी ये लगता है कि राम के नाम से राजनीति है तो महात्मा गांधी की समाधि पर भी 'हे राम' लिखा हुआ है, उसको मिटाकर दिखाएं। राज्य में चुनाव संबंधी सवाल पर उमा ने कहा कि अब मैं इन विषयों में नहीं पड़ूंगी। न मेरी इसमें रुचि है न मैं रुचि लेने वाली हूं।

उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ तीन चीजों में रुचि ले रही हूं नंबर एक गंगा जी, नंबर दो ललितपुर-झांसी और नंबर तीन अपना मंत्रालय, इसके अलावा मेरी किसी और विषय में रुचि नहीं है। आने वाले विधानसभा चुनावों में खुद की भूमिका के सवाल पर बोलीं कि जो अमित शाह जी मुझे कह देंगे, वो करूंगी।



और भी पढ़ें :