बिहार में रोजगार के वादे पर बवाल, ट्विटर पर तेजस्वी से क्यों भिड़ गए गिरिराज सिंह?

नई दिल्ली। के उपमुख्यमंत्री द्वारा 10 लाख युवाओं को नौकरी देने के पूर्व के एक वादे को लेकर शुक्रवार को पर उनके और केंद्रीय मंत्री के बीच जुबानी जंग छिड़ गई। सिंह ने तेजस्वी के एक ताजा साक्षात्कार के वीडियो का हिस्सा साझा किया, जिसमें वह बिहार में युवाओं को 10 लाख रोजगार दिए जाने से जुड़े एक सवाल का जवाब दे रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री ने तेजस्वी पर तंज कसते हुए वीडियो के साथ ही यह भी लिखा कि राजद नेता ने 10 लाख रोजगार देने का वादा किया था लेकिन वह उसे मुख्यमंत्री बनने पर पूरा करेंगे, अभी तो वह उपमुख्यमंत्री हैं।

सिंह के ट्वीट का जवाब देते हुए तेजस्वी ने उक्त साक्षात्कार का बड़ा हिस्सा साझा किया। उन्होंने कहा, 'श्रीमान जी, इतने बेशर्म मत बनिए। एक फुट लंबी चोटी रखने से कोई ज्ञानी नहीं बन जाता, जैसे आप रखते है। आप लोगों की इन ओछी हरकतों, संपादित वीडियोज व सड़क छाप बयानों की बदौलत ही भाजपा की यह दुर्दशा है। इन बेचारों का बिहार में कोई चेहरा ही नहीं।'
केंद्रीय मंत्री ने तेजस्वी पर पलटवार करने में देरी नहीं की। उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि बिहार की धर्मनिरपेक्ष सरकार के शीर्ष नेताओं ने हिंदू प्रतीक चिन्ह टीका-शिखा पर हमले शुरू कर दिए हैं।
उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने कहा कि 2020 के विधानसभा चुनाव में राजद के चुनावी अभियान का नेतृत्व करते हुए उन्होंने 10 लाख रोजगार देने का जो वादा किया था, उसे नयी सरकार पूरा करेगी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इसे लेकर गंभीर हैं।
उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन से नाता तोड़कर जब से नीतीश कुमार ने राजद के साथ मिलकर महागठबंधन की सरकार बनाई है तभी से भाजपा के नेता मुख्यमंत्री कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी को निशाना बना रहे हैं।




और भी पढ़ें :