TMC सांसद शांतनु सेन को महंगी पड़ी अभद्रता, राज्यसभा से निलंबित

Last Updated: शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 (12:33 IST)
मुख्य बिंदु
  • TMC सांसद मानसून सत्र के लिए राज्यसभा से निलंबित
  • सभापति एम वेंकैया नायडू ने शांतनु सेन के निलंबन की घोषणा की
  • शांतनु सेन ने IT मंत्री अश्विनी वैष्णव से कॉपी छीन कर फाड़ दी थी
  • हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित
नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस सदस्य शांतनु सेन को सदन में उनके अशोभनीय आचरण के लिए राज्यसभा के मौजूदा सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित कर दिया गया। उच्च सदन के सभापति एम वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को शांतनु सेन के निलंबन की घोषणा की।
सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने गुरुवार को हुई घटना का जिक्र किया और इसे अशोभनीय बताया। सभापति ने कहा कि कल जो कुछ हुआ, निश्चित रूप से उससे सदन की गरिमा प्रभावित हुई।

गौरतलब है कि सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव इजराइली स्पाईवेयर पेगासस के जरिये भारतीयों की कथित जासूसी के मुद्दे पर सदन में बयान दे रहे थे। उसी दौरान, तृणमूल कांग्रेस और कुछ अन्य विपक्षी दल के सदस्य हंगामा करते हुए आसन के समीप आ गए तथा नारेबाजी करने लगे।
इसी बीच, तृणमूल कांग्रेस के सदस्य शांतनु सेन ने केंद्रीय मंत्री के हाथों से बयान की प्रति छीन ली और उसके टुकड़े कर हवा में लहरा दिया। इस स्थिति चलते वैष्णव ने बाद में बयान की प्रति सदन के पटल पर रख दी। उपसभापति हरिवंश ने हंगामा कर रहे सदस्यों से असंसदीय व्यवहार ना करने का अनुरोध किया था लेकिन उनकी बात नहीं सुनी गई।

सभापति एम वेंकैया नायडू ने आज सदन की बैठक शुरू होने पर कल की घटना को लेकर क्षोभ व्यक्त किया और शांतनु सेन को सत्र की शेष अवधि से निलंबित किए जाने की घोषणा की।




और भी पढ़ें :