Weather Update: भीषण गर्मी का प्रकोप जारी, दिल्ली में तापमान 41 डिग्री के पार

Last Updated: शनिवार, 2 अप्रैल 2022 (09:07 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। ने कहा कि दिल्ली के कुछ हिस्सों में बुधवार को भीषण गर्मी पड़ी और अधिकतम 3 स्थानों पर 41 डिग्री को पार कर गया। लू का प्रकोप बरकरार रहने की उम्मीद है।

आईएमडी के अधिकारियों ने कहा कि लंबे समय तक सूखे के कारण उत्तर-पश्चिम भारत में गर्म मौसम की स्थिति 'गंभीर' हो गई है। विभाग के मुताबिक उत्तर-पश्चिम, मध्य और पश्चिम भारत में लू का प्रकोप अगले 4 से 5 दिनों तक जारी रहने की संभावना है।

आईएमडी के अनुसार मैदानी इलाकों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक या सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक होने पर गर्म हवाओं को 'लू' घोषित किया जाता है। सामान्य से 6.4 डिग्री अधिक तापमान होने पर 'भीषण लू' की घोषणा की जाती है। दिल्ली में 8 मौसम केंद्रों ने अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा दर्ज किया। नरेला, पीतमपुरा और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स केंद्रों पर तापमान क्रमश: 41.7 डिग्री सेल्सियस, 41.4 डिग्री सेल्सिययस और 41.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।


एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र हरियाणा और आसपास के इलाकों पर बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वी यूपी और उससे सटे बिहार पर बना हुआ है। पूर्वी उत्तरप्रदेश और बिहार पर बने चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र से छत्तीसगढ़, तेलंगाना और रायलसीमा होते हुए आंतरिक तमिलनाडु तक एक ट्रफ/हवा का विच्छेदन जारी है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मन्नार की खाड़ी और उससे सटे इलाकों के निचले स्तरों पर बना हुआ है।
पिछले 24 घंटों के दौरान असम, मेघालय अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई और कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। शेष पूर्वोत्तर भारत और उपहिमालयी पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश हुई। केरल और आंतरिक तमिलनाडु की पहाड़ियों पर छिटपुट हल्की बारिश हुई।

हिमाचल प्रदेश, दक्षिण हरियाणा और दिल्ली के कुछ हिस्सों में लू से लेकर गंभीर लू की स्थिति देखी गई। पूर्वी मध्यप्रदेश के अधिकांश हिस्सों, राजस्थान के कई हिस्सों, पश्चिमी मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों और दक्षिण उत्तरप्रदेश, मध्य महाराष्ट्र और विदर्भ में एक या दो स्थानों पर लू की स्थिति बनी।
अगले 24 घंटों के दौरान असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में हल्की और मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, शेष पूर्वोत्तर भारत, दक्षिण तटीय कर्नाटक और लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। पूर्वोत्तर बिहार और आंतरिक तमिलनाडु में छिटपुट हल्की बारिश हो सकती है। 1 से 3 अप्रैल के बीच राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, दिल्ली और एनसीआर और हरियाणा के कुछ हिस्सों में गर्मी की लहर की तीव्रता कम हो जाएगी।



और भी पढ़ें :