दिल्ली में शिक्षक दिवस पर 100 से अधिक शिक्षकों ने दी गिरफ्तारियां

Last Updated: रविवार, 6 सितम्बर 2020 (00:46 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। के अवसर पर के 100 से अधिक शिक्षकों ने राजधानी के 12 कॉलेजों में तनख्वाह और नहीं मिलने के विरोध में आज धरना प्रदर्शन करते हुए गिरफ्तारियां दीं।
दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष राजीव रे के नेतृत्व में सैकड़ों शिक्षकों ने चेहरे पर मास्क लगाकर धरना प्रदर्शन किया और उन्होंने 'दिल्ली सरकार शर्म करो शर्म करो' के जोरदार नारे लगाए। इन शिक्षकों ने हाथों में बैनर और पोस्टर लेकर विश्वविद्यालय परिसर में धरना प्रदर्शन किया।

रे ने बताया कि शुरू में पुलिस ने 28 शिक्षकों को पकड़ा फिर उनकी संख्या 72 तक हो गई। इस तरह कुल 109 शिक्षक गिरफ्तार किए गए। बाद में दो-ढाई घंटे के बाद पुलिस ने शाम को उन्हें छोड़ दिया।

गौरतलब है कि दिल्ली विद्यालय के शिक्षक पिछले कई महीने से कॉलेजों में पिछले 5 माह से और पेंशन न मिलने के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। ये 12 कॉलेज दिल्ली सरकार द्वारा वित्तीय पोषित हैं लेकिन कुछ माह से दिल्ली सरकार में इन कॉलेजों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता बंद कर दी है जिनके कारण इन कॉलेजों में शिक्षकों को वेतन और पेंशन नहीं मिल पा रही है।

दिल्ली विश्वविद्यालय के शिक्षकों ने आज इतना जबरदस्त प्रदर्शन किया कि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और सौ से अधिक शिक्षकों को पकड़कर ले गई और ढाई घंटे तक थाने में बिठाए रखा और बाद में उन्हें छोड़ दिया। इस घटना के विरोध में शिक्षकों ने मौरिस नगर थाने के भीतर विरोध प्रकट किया।

शिक्षकों का आरोप है कि दिल्ली सरकार इन कॉलेजों की प्रबंध समितियों में अपने आदमियों को भरना चाहती है इसलिए वह दबाव की नीति अपना रही है और उसने इन कॉलेजों को दी जाने वाली सहायता बंद कर दी है।(वार्ता)



और भी पढ़ें :