Maharashtra : महाराष्ट्र में बदली सियासी बयार, गुवाहाटी से गोवा पहुंचे शिवसेना के बागी विधायक

Last Updated: गुरुवार, 30 जून 2022 (01:10 IST)
हमें फॉलो करें
पणजी। से झटके बाद उद्धव ठाकरे ने पर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे का ऐलान कर दिया। में बदली सियासी बयार के बीच शिवसेना के बागी विधायक गोवा पहुंच गए। महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट का कारण बने शिवसेना के बागी विधायक बुधवार मुंबई वापस जाने के क्रम में गुवाहाटी से एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में गोवा के डाबोलिम हवाई अड्डे पर पहुंचे। विधायक डाबोलिम हवाई अड्डे पर चार्टर्ड विमान के जरिए पहुंचे और विशेष बसों में सवार होकर पणजी के नजदीक डोना पाउला स्थित पंच सितारा होटल के लिए रवाना हो गए।
ALSO READ:

Political Crisis : सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उद्धव ठाकरे ने किया इस्तीफे का ऐलान (Live Updates)
हवाई अड्डा सूत्रों ने बताया कि विधायकों को लेकर विशेष विमान रात नौ बजकर 45 मिनट पर हवाई अड्डे पर उतरा। सूत्रों ने बताया कि इन बागी विधायकों के शाम से ही पहुंचने की उम्मीद की जा रही थी। इसलिए हवाई अड्डे और होटल की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। उन्होंने बताया कि होटल को छावनी में तब्दील कर दिया गया है और लोगों और उनके वाहनों की होटल के गेट पर ही गहन जांच की जा रही है।
इससे पहले दिन में शिवसेना के बागी विधायकों का नेतृत्व कर रहे शिंदे ने गुवाहाटी से रवाना होने से पहले मां कामाख्या मंदिर में जाकर दर्शन किए थे। ये विधायक करीब एक हफ्ते से गुवाहाटी में डेरा डाले हुए थे। शिंदे के करीबी सहयोगी ने बताया कि बागी विधायकों का समूह गोवा के होटल में रुकेगा और बृहस्पतिवार की सुबह साढ़े नौ बजे मुंबई पहुंचेगा।
होटल में बैठक करेंगे : शिवसेना के बागी विधायकों में से एक भरत गोगावले ने बुधवार रात कहा कि वे गोवा के एक पांच सितारा होटल में बैठक करेंगे, जहां वे रात में ठहरेंगे। गोगावले ने कहा कि बैठक में वे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के इस्तीफे के बाद अपने अगले कदम पर चर्चा करेंगे।
Koo App
Breaking News: refuses to stay floor test Called by #Maharashtra Governor. - Prasar Bharati News Services (@pbns_india) 29 June 2022
गोगावले ने कहा कि ऐसा नहीं है कि हम उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री पद छोड़ने के फैसले से बहुत खुश हैं। हम अपने होटल की ओर जा रहे हैं। एक बार वहां पहुंचने के बाद, हम इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे और अपने अगले कदम पर फैसला करेंगे। उन्होंने (ठाकरे) हमें मनाने की कोशिश की।



और भी पढ़ें :